मुंबई (रायटर्स)। भारत के खेल मंत्री ने रविवार को कहा कि इस साल इंडियन प्रीमियर लीग को आगे बढ़ाने की अनुमति देने का कोई भी फैसला सरकार द्वारा लिया जाएगा न कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड। यह इस बात पर आधारित होगा कि देश की आने वाली स्थिति कोरोना वायरस के चलते कितनी सुधरी है। खेल मंत्री किरन रिजिजू ने कहा कि आईपीएल तभी आगे बढ़ेगा जब लोगों के स्वास्थ्य को कोई खतरा नहीं होगा। रिजिजू ने इंडिया टुडे चैनल को बताया, 'भारत में सरकार को एक कदम उठाना होगा और यह महामारी की स्थिति पर निर्भर करेगा कि हम एक राष्ट्र के रूप में कैसे आगे बढ़ते हैं।'

अक्टूबर या नवंबर में होगा आईपीएल

रिजिजू ने आगे कहा, 'हम राष्ट्र के स्वास्थ्य को जोखिम में नहीं डाल सकते हैं सिर्फ इसलिए कि हम चाहते हैं कि खेल प्रतियोगिताएं आयोजित हों। हमारा दिमाग कोरोना से लड़ रहा है।' दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने कहा था कि वह अक्टूबर या नवंबर में आईपीएल का आयोजन करने पर विचार करेगा अगर उन महीनों के दौरान ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी 20 विश्व कप आगे नहीं बढ़ा सिर्फ तभी। बीसीसीआई के लिए आईपीएल की कीमत लगभग 530 मिलियन डाॅलर है और यह दुनिया के ही हीं बल्कि भारतीय क्रिकेटरों के लिए भी अपाॅर्च्युनिटी होती है। यह मार्च के अंत में शुरू होने वाला था लेकिन महामारी के कारण अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया था। बता दें कि भारत में मौतों का आंकड़ा 3867 और कोरोना के नए मरीजों की संख्या 131868 है।

Posted By: Vandana Sharma

National News inextlive from India News Desk