नई दिल्ली (एएनआई)। रेल मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि भारतीय रेलवे 22 मई से चरणबद्ध तरीके से आरक्षित टिकटों की बुकिंग के लिए अपने आरक्षण काउंटर खोलेगा। मंत्रालय द्वारा जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, 'जोनल रेलवे को स्थानीय जरूरतों और शर्तों के अनुसार आरक्षण काउंटर खोलने का निर्णय लेने और सूचित करने के निर्देश दिए गए हैं। ये आरक्षण काउंटर चरणबद्ध तरीके से 22 मई से खुलेंगे, साथ ही अपने संबंधित स्थानों और स्थानीय समय के अनुसार सूचनाओं का प्रसार करेंगे।' भारतीय रेलवे ने 22 मई से सामान्य सेवा केंद्रों और टिकट एजेंटों के माध्यम से आरक्षण टिकटों की बुकिंग की भी अनुमति दी है।

टिकट बुकिंग का काम आसान

बयान में यह भी कहा गया है कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को मौजूदा प्रोटोकॉल के अनुसार स्थानीय राज्य सरकारों द्वारा संभाला जाता रहेगा।इन सभी बुकिंग सुविधाओं को एक बार फिर से खोलने से यात्री रेलवे सेवाओं की श्रेणीबद्ध बहाली में एक महत्वपूर्ण कदम होगा और आरक्षित ट्रेनों में भारत के सभी हिस्सों के सभी संभावित यात्रियों के लिए टिकट बुकिंग का काम आसान हो जाएगा। मंत्रालय ने यह भी कहा कि क्षेत्रीय रेलवे को मानक सामाजिक दूरी दिशानिर्देशों का पालन करना होगा और चल रहे सीओवीआईडी ​​-19 महामारी को देखते हुए स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन करना होगा।

दुरंतो से लेकर जन शताब्दी तक ट्रेनें शामिल

भारतीय रेलवे ने बुधवार को 1 जून से संचालित होने वाली 200 ट्रेनों की एक सूची जारी की जिसमें ऑपरेशन लोकप्रिय ट्रेनें जैसे कि दुरंतो, संपर्क क्रांति, जन शताब्दी और गरीब एक्सप्रेस आदि शामिल हैं। यह विशेष यात्री सेवाओं का दूसरा स्लीव है। हाल ही में जारी एक बयान में रेलवे ने कहा था कि ये ट्रेनें पूरी तरह से गैर-वातानुकूलित होंगी। बुधवार को इसने कहा कि इनमें एसी, नॉन-एसी दोनों वर्ग पूरी तरह से आरक्षित कोच होंगे। ये ट्रेनें नियमित ट्रेनों की तर्ज पर चलने वाली विशेष ट्रेनें होंगी, जिसमें टियर 2 शहरों को शामिल किया जाएगा और मुंबई, कोलकाता जैसी प्रमुख राज्यों की राजधानियों को भी शामिल किया जाएगा।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner