जंक्शन और ट्रेनों में ऑपरेशन थ‌र्स्ट का असर, हर स्टॉल और काउंटर पर अब दिख रहा केवल रेल नीर

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट रियलिटी चेक में सामने आई हकीकत

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: सिस्टम के टाइट होते ही इलाहाबाद जंक्शन और यहां आने वाली ट्रेनों से मिनरल वाटर बेचने वाले अवैध वेंडर अब गायब हो गये हैं. कुछ दिन पहले तक जहां जंक्शन के अधिकृत स्टॉलों पर भी अलग-अलग कंपनियों का मिनरल वाटर बिक रहा था, वहीं अब सभी काउंटरों पर केवल रेल नीर ही दिखाई दे रहा है. दैनिक जागरण आईनेक्स्ट के रियलिटी चेक में फिलहाल यही हकीकत सामने आई.

बिना टेंशन लें स्टेशन पर ड्रिंकिंग वाटर

रेलवे की ओर से चलाया जा रहा आपरेशन थ‌र्स्ट का असर दिखने लगा है. स्टेशनों पर पैसेंजर्स अब विदाउट टेंशन ड्रिंकिंग वाटर खरीद सकता है. उन्हें अब शुद्घ बोतल बंद पानी के लिए रेलवे ब्रांड की रेल नीर के लिए मशक्कत नहीं करनी पड़ रही है. दरअसल इससे पूर्व रेलवे स्टेशनों पर सक्रिय वेंडर बोतलबंद पानी के नाम पर पैसेंजर्स को खुला पानी या फिर अनाधिकृत कंपनियों का पानी महंगे दामों पर बेचते थे.

रियालिटी चेक में हर हाथ रेल नीर

शनिवार की दोपहर दैनिक जागरण आईनेक्स्ट रिपोर्टर इलाहाबाद जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर एक पर पहुंचा. जहां रेलवे के अधिकृत स्टॉलों पर केवल रेल नीर की ही बोतलें दिखाई दीं. नीलम फूड प्लाजा के बाहर रिपोर्टर कुछ देर तक खड़ा रहा. जहां अंदर से जो भी पैसेंजर बाहर आता, उसके हाथ में रेल नीर की ही बोतल थी.

पैंट्रीकार में भी पानी प्योर

हावड़ा से जोधपुर जाने वाली हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस दोपहर में इलाहाबाद जंक्शन पहुंची, रिपोर्टर ने ट्रेन के पैंट्रीकार में जाकर देखा तो यहां भी रेल नीर की ही बोतलें रखी थीं. इससे पहले अन्य कंपनियों का मिनरल वाटर पैसेंजर्स को दिया जाता था.

3000 बोतल हुए थे बरामद

ऑपरेशन थ‌र्स्ट के तहत कुछ दिन पहले आरपीएफ द्वारा जंक्शन पर अभियान चलाया गया था. जिसमें अन्य कंपनियों के व अनधिकृत 3000 पानी के बोतल मिले थे. जिन्हें कब्जे में लेते हुए वेंडरों का चालान किया गया था.

रेल नीर के हैं ये फायदे

रेलवे द्वारा स्टेशनों पर और ट्रेनों में रेल नीर की सप्लाई करने का दबाव इसलिए बनाया जा रहा है, क्योंकि रेल नीर रेलवे द्वारा अपने प्लांट में ही पैक किया जाता है. साथ ही रेल नीर का रेट पंद्रह रुपये बोतल है. जबकि अन्य कंपनियों का मिनरल वाटर 20 रुपये में बिकता है.

यदि कोई भी वेंडर व स्टॉल संचालक रेलवे के नियम विरूद्ध पानी बेचता पाया जाएगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. सभी को नोटिस दी जा चुकी है. आरपीएफ के साथ ही कॉमर्शियल टीम द्वारा नजर रखी जा रही है.

-सुनील कुमार गुप्ता

पीआरओ, इलाहाबाद मंडल