नई दिल्ली (पीटीआई)। शुक्रवार को इंस्टाग्राम ने अपने ऊपर डाटा मिसयूज के लगे आरोपों पर कहा कि इनवेस्टिगेशन से ये पता चला है किसी यूजर का किसी प्राइवेट मेल या फोन नंबर का मिसयूज नहीं किया गया है। दरअसल एक भारतीय कंपनी पर इंस्टाग्राम यूजर्स के स्टोर्ड डाटा को गलत तरीके से इस्तेमाल करने के आरोप लगे थे। हफ्ते की शुरुआत में आई रिपोर्ट्स के मुताबिक 4.9 करोड़ से भी अधिक रिकाॅर्ड और लाखों इंस्टाग्राम अकाउंट होल्डर्स चाहे वो किसी सेलिब्रिटी के हों या फिर आम आदमी के ऑनलाइन पाए गए थे। उनके इंस्टाग्राम डाटा सार्वजनिक करने का आरोप मुंबई स्थित चैटरबाॅक्स डाटा मैनेजमेंट कंपनी पर लगा था।

इंस्टाग्राम ने कहा जांच जारी

इंस्टाग्राम ने कहा कि इसकी जांच जारी है कि थर्ड पार्टी ने हमारी पाॅलीसीज को ध्यान में रख कर यूजर्स के डाटा को सावधानी से स्टोर किया था कि नहीं। शुक्रवार को एक इस्टेटमेंट में इंस्टा के स्पोक्स पर्सन ने कहा था, 'हम डाटा मिसयूज से जुड़े हर आरोप को गंभीरता से लेते हैं। इनिशियल इनवेस्टीगेशन में हुई जांच के बाद हमने पाया कि इंस्टा के किसी भी यूजर्स की प्राइवेट ई-मेल्स या फोन नंबर्स को मिस यूज नहीं किया गया है।' स्पोस्क्स पर्सन ने चैटरबाॅक्स के डाटाबेस की बात करते हुए कहा कि उस पर कई प्लेटफार्म्स के जरिए जानकारी पब्लिकली उपलब्ध थी, उनमें से एक इंस्टाग्राम भी था।

5 दमदार कैमरा मिड बजट फोन: 48 मेगापिक्सल का दमदार कैमरा और दाम 10 हजार रुपये से शुरू

Nokia 3.2 इंडिया में हुआ लाॅन्च, इन दामदार फीचर्स और कम दाम के साथ

चैटरबाॅक्स ने भी गलती से किया इनकार

रिपोर्ट्स की मानें तो चैटर बाॅक्स जो कई ब्रैंड्स और एजेंसीज के डेटा मैनेजमेंट की देख रेख करता है, उसने कहा कुछ यूजर्स का डाटा अनजाने में उजागर हो गया पर उसमें से कोई भी सेंसटिव या किसी व्यक्ति का पर्सनल डाटा नहीं था। स्टेटमेंट में कहा गया, 'इस डाटा बेस में कोई सेंसटिव पर्सनल डाटा और इनफार्मेशनल डाटा पब्लिक डोमेन के द्वारा शामिल नहीं किया गया था। इसमें सिर्फ सार्वजनिक जानकारी ही उपलब्ध थी या फिर प्रभावित यूजर्स की खुद शेयर की गई पर्सनल जानकारियां थीं।

Posted By: Vandana Sharma

Business News inextlive from Business News Desk