दुबई (पीटीआई)। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने स्वीकार किया कि वह पांच महीनों में पहली बार नेट्स पर हिट करने के लिए काफी डरे हुए थे। लेकिन उन्होंने कहा कि आगामी आईपीएल से पहले उनका पहला प्रशिक्षण सत्र "उम्मीद से बेहतर" रहा। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान ने पांच महीने के कोरोना वायरस ब्रेक के बाद प्रशिक्षण फिर से शुरू किया। इस सेशन में दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन और आरसीबी टीम के निदेशक माइक हेसन ने भी भाग लिया।

पहली गेंद का सामना करने पर लगा डर
आरसीबी की वेबसाइट पर कोहली के हवाले से कहा गया, 'यह सेशन बेहतर था। ईमानदारी से कहूं तो मैं बहुत डरा हुआ था। मैंने पांच महीने तक बल्ला नहीं उठाया था, लेकिन हाँ यह बेहतर था।' 31 वर्षीय कोहली, जो पिछले साल आईपीएल में आरसीबी के सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी थे, ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान फिट रहने से उन्हें नेट सत्र के दौरान बेहतर प्रतिक्रिया देने में मदद मिली, भले ही वह लंबे ब्रेक के बाद प्रशिक्षण ले रहे थे। विराट कहते हैं, 'मैंने लॉकडाउन के दौरान काफी वर्कआउट किया है इसलिए मैं काफी फिट महसूस कर रहा हूं और इससे मदद मिलती है। क्योंकि शरीर हल्का है और आप बेहतर प्रतिक्रिया देते हैं, मुझे लगता है कि मेरे पास गेंद पर अधिक समय है। यह एक बड़ा प्लस है।"

वापस मैदान में उतरे कोहली
आरसीबी की टीम पिछले हफ्ते दुबई में 13 वें आईपीएल में हिस्सा लेने पहुंची थी। इस बार टूर्नामेंट 19 सितंबर को यूएई में शुरू होने वाला है। देश में बढ़ रहे COVID-19 मामलों के कारण कैश-रिच T20 इवेंट को भारत से बाहर ले जाया गया। टीम ने शनिवार को अपना क्वारंटीन पीरियड को सफलतापूर्वक समाप्त करने के बाद नेट्स सेशन में हिस्सा लिया। कोहली के अलावा युजवेंद्र चहल, वॉशिंगटन सुंदर और शाहबाज नदीम की स्पिन तिकड़ी और कुछ पेसर्स ने भी प्रशिक्षण लिया।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk