नई दिल्ली (पीटीआई)। बसपा सुप्रीमो मायावती के भाई आनंद कुमार और उनकी पत्नी विचित्र लता के खिलाफ गुरुवार को आयकर विभाग ने एक बड़ी कार्यवाई की है। आधिकारियों के मुताबिक इस कार्रवाई में आयकर विभाग ने नोएडा में 400 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति जब्त की है। आयकर विभाग की दिल्ली स्थित बेनामी निषेध इकाई (बीपीयू) ने आनंद कुमार और उनकी पत्नी विचित्र लता के लाभकारी मालिकाना हक वाले सात एकड़ के भूखंड को जब्त करने का अस्थाई आदेश 16 जुलाई को जारी किया था।

जुर्माने के साथ 7 साल का सश्रम कारावास हो सकता

यह आदेश बेनामी संपत्ति लेनदेन अधिनियम, 1988 की धारा 24 (3) के तहत जारी किया गया है।आयकर विभाग ने जांच में पाया है कि आनंद कुमार के पास नोएडा में 28,328.07 स्क्वायर मीटर का एक बेनामी प्लॉट है। इस प्लॉट की कीमत करीब 400 करोड़ रुपये है। कानून के मुताबिक बेनामी अधिनियम का उल्लंघन करने वाले को बेनामी संपत्ति के उचित बाजार मूल्य का 25 प्रतिशत तक जुर्माना अदा करना पड़ता है। इसकेअलावा सात साल तक के सश्रम कारावास का सामना करना पड़ सकता है।
मायावती का इशारा उनके बाद पार्टी की कमान संभालेगा उनका परिवार, भाई-भतीजे को साैंपे ये पद

मायावती ने भाई को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया
मोदी सरकार द्वारा उस वर्ष से निष्क्रिय पड़े कानून को लागू करने के बाद विभाग ने 1 नवंबर, 2016 से नए बेनामी लेनदेन (निषेध) संशोधन अधिनियम, 2016 के तहत कार्रवाई शुरू की। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट देश में बेनामी अधिनियम को लागू करने वाला नोडल विभाग है। बता दें कि बीती 23 जून को मायावती ने भाई आनंद को बीएसपी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त व भतीजे आकाश आनंद को नेशनल कोऑर्डिनेटर बनाया था। इसके अलावा राष्ट्रीय महासचिव रामजी गौतम को भी नेशनल कोऑर्डिनेटर बनाया था।

National News inextlive from India News Desk