माधवन और बिपाशा की अपकमिंग रोम-कॉम जोड़ी ब्रेकर्स के रास्ते कई सारी मुश्किलें नजर आ रही हैं. लेटेस्ट प्रॉब्लम ये है कि इन्सिया दरीवाला, जो एक नई
राइटर-फिल्ममेकर हैं उनका दावा है कि ये फिल्म ओरिजिनली उनका आइडिया है. यहां तक कि उन्होंने फिल्म राइटर्स एसोसिएशन में कम्प्लेन तक रजिस्टर कर दी है. फिल्म राइटर एसोसिएशन से एक इन्साइडर ने खुलासा किया कि इन्सिया ने ट्यूज्डे को कम्प्लेन रजिस्टर की है. एसोसिएशन से हमारे सोर्सेस ने बताया, ‘इन्सिया ने ये स्क्रिप्ट 2009 में रजिस्टर की थी. अब उन्होंने कम्प्लेन रजिस्टर की है.’


हमने स्टोरी हाईजैकिंग की कई शिकायतें सुनी हैं, इस लेडी का केस अजीब ही समझ आ रहा है. उनके एक फ्रेंड ने बताया है कि वह पहले कभी अश्विनी चौधरी (जोड़ी ब्रेकर्स के डायरेक्टर) से नहीं मिली थीं. उनके कुछ दोस्तों ने बताया कि फिल्म के प्रोमो उनकी स्क्रिप्ट से मैच करते हैं तब वह अश्विनी से मिलीं. कहने की जरुरत नहीं जब इन्सिया अश्विनी से इन सिमलैरिटी के बारे में डिस्कस करने के लिए मिलीं तो अश्विनी इस बात को मानने को तैयार ही नहीं थे.


इन्सिया के फ्रेंड ने बताया, ‘शायद अश्विनी ने कहा है कि अब उनकी फिल्म रिलीज होने को है और उन्होंने इन्सिया की स्क्रिप्ट कहींनहीं सुनी, इसलिए उन पर चोरी का इल्जाम नहीं लगाया जा सकता. हालांकि उन्होंंने इस बात का यकीन दिलाया है कि अगर वह प्रूव कर पाती हैं कि स्क्रिप्ट उनकी है तो वह अपने राइटर को निकालकर इन्सिया को क्रेडिट दे देंगे.’

See Also


इन्सिया के लिए दुख की बात ये है कि अश्विनी का दावा है कि उन्हें जोड़ी ब्रेकर की स्क्रिप्ट मार्च 2009 में मिल गई थी.उनके फ्रेंड ने आगे बताया, ‘इन्सिया ने अपनी स्क्रिप्ट इसके छह महीने बाद रजिस्टर करवाई. हालांकि 2008 में इन्सिया ने ये आइडिया सचिन खोट (फिल्म अगली और पगली के डायरेक्टर) के साथ डिस्कस किया था. उन्होंने डेट चेक करने के लिए अश्विनी से स्क्रिप्ट का पहला पेज दिखाने के लिए कहा है. मगर अश्विनी स्कैन की हुई कॉपी नहीं भेज रहे. इसका मतलब है कि शायद वह ही झूठ बोल रहे हैं.


मजेदार बात ये है कि अश्विनी जोड़ी ब्रेकर्स का सीक्वल भी प्लान कर रहे हैं. दरीवाला के फ्रेंड के मुताबिक, ‘उन्होंने इन्सिया को बताया कि अगर मामला नहीं सुलझता है तो वह जोड़ी ब्रेकर्स के सीक्वल की जिम्मेदारी उन्हें सौंप देंगे.


दरीवाला ने ये कहकर कमेंट करने से इन्कार कर दिया कि वह इस वक्त कुछ नहीं कह सकतीं, केस फिल्म राइटर्स एसोसिएशन को सौंप दिया है.
अश्विनी का कहना है, ‘जहां तक मैं जानता हूं, मेरी स्क्रिप्ट ओरिजिनल है. सिर्फ प्रोमोज के बेसिस पर आप नहीं कह सकते कि स्क्रिप्ट सेम है. इनफैक्ट मैंने ही इन्सिया को सजेस्ट किया था कि फिल्म राइटर एसोसिएशन से कॉन्टैक्ट करें ताकि चीजें क्लीयर हो सकें.’

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk