भोपाल (आर्इएएनएस)। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कल मंगलवार को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करते हुए 28 मंत्रियों को शामिल किया। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने यहां राजभवन में नए मंत्रियों को पद की शपथ दिलाई। सीएम कमलनाथ ने पार्टी खेमे आैर क्षेत्रीय राजनीति के संतुलन को ध्यान में रखते हुए मंत्रिमंडल तैयार किया है।

मंत्रिमंडल में दो महिलाएं भी शामिल हुर्इ

इनके मंत्रिमंडल में मालवा निवाड़ क्षेत्र से नौ विधायकों को, मध्य मध्य प्रदेश के छह, ग्वालियर-चंबल क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले पांच और बुंदेलखंड के तीन विधायकों को अपने मंत्रिमंडल में शामिल किया। मंत्रिस्तरीय टीम में शामिल चेहरों में मुख्यमंत्री के 11 वफादार, कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के खेमे के नौ, ज्योतिरादित्य सिंधिया के खेमे के सात और राज्य के पूर्व पार्टी प्रमुख अरुण यादव के खेमे के एक हैं। मंत्रिमंडल में दो महिलाएं महेश्वर से विजय लक्ष्मी साधो और डबरा से इमरती देवी शामिल हैं।

15 साल बाद मुस्लिम चेहरा हुआ शामिल

इसके अलावा खास बात यह है कि मध्य प्रदेश की सरकार में पूरे 15 साल बाद किसी मुस्लिम चेहरे को जगह मिली है। भोपाल उत्तर से विधायक आरिफ अकील पहले मुस्लिम मंत्री हैं। शपथ ग्रहण के बाद सीएम कमलनाथ ने आैर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सभी मंत्रियों को बधार्इ दी। इसके साथ ही उन्हें राज्य की प्रगति और कल्याण व कांग्रेस की प्रतिबद्धता को पूरा करने की दिशा में काम करने के लिए कहा है। मध्य प्रदेश में नवनिर्वाचित विधानसभा का सत्र 7 जनवरी से शुरू होने वाला है ।

National News inextlive from India News Desk