- बीटेक फ‌र्स्ट इयर के पेरेंट्स से ऑनलाइन एफीडेविट लिया जा रहा

- एचबीटीयू में एंटी रैगिंग कमेटी बनी, प्रोफेसर्स की सीनियर्स पर नजर

kanpur@inext.co.in

KANPUR: रैगिंग को लेकर एचबीटीयू प्रशासन ने अभी से सख्ती शुरू कर दी है. वाइस चांसलर ने साफ कहा कि अगर किसी सीनियर ने जूनियर के साथ अभद्रता की या फिर रैगिंग की तो उसे बाहर का रास्ता दिखा जाएगा. सुप्रीमकोर्ट की जो गाइड लाइंस हैं उनका कम्प्लायंस हर हाल में सभी को करना होगा. किसी भी सीनियर स्टूडूेंट्स को रैगिंग की इजाजत नही है. पहली बार पेरेंट्स से ऑनलाइन एफीडेविट लिया जा रहा है कि उनका बेटी-बेटा रैगिंग नहीं करेगा.

बीटेक फ‌र्स्ट इयर की क्लासेस 28 जुलाई से

एचबीटीयू के रजिस्ट््रार प्रो मनोज कुमार शुक्ला ने बताया कि एचबीटीयू में एडमिशन चल रहा है. अभी तक 388 सीट्स पर स्टूडेंट्स एडमिशन ले चुके हैं. थर्ड राउंड की काउंसिलिंग 19 से 23 जुलाई के बीच होगी. 24 जुलाई से स्टूडेंट्स रिपोर्ट करेंगे. इसके बाद स्टूडेंट्स का ओरियंटेशन प्रोग्राम कंडक्ट कराया जाएगा. 28 या फिर 29 जुलाई से बीटेक फ‌र्स्ट इयर की क्लासेस स्टार्ट हो जाएंगी. एचबीटीयू में बीटेक व एमसीए फ‌र्स्ट इयर में 688 सीट्स पर स्टूडेंट्स को एडमिशन दिया जाएगा.

एचबीटीयू कैंपस 4 जोन में डिवाइड

एचबीटीयू में एंटी रैगिंग कमेटी का गठन किया गया है. यूनिवर्सिटी को 4 जोन में डिवाइड किया गया है. ईस्ट कैंपस को 3 जोन में और वेस्ट कैंपस में एक जोन बनाया गया है. एंटी रैगिंग कमेटी का चेयरमैन प्रो यदुवीर सिंह को बनाया गया है. कमेटी अपना काम 28 जुलाई से स्टार्ट कर देगी.

'' एचबीटीयू कैंपस में अगर किसी सीनियर ने रैगिंग की हिमाकत की तो उसे यूनिवर्सिटी से टर्मिनेट कर दिया जाएगा. जूनियर स्टूडेंट्स को कोई परेशानी हो तो वह चुपचाप मुझे मैसेज कर सकते हैं.''

प्रो नरेन्द्र बहादुर सिंह, वाइस चांसलर एचबीटीयू