-लगातार बिल न जमा करने वालों के लिए मुसीबत बनेगा स्मार्ट मीटर, ऑटोमैटिक कट जाएगा कनेक्शन

-केस्को की गैंग को मौके पर पहुंचकर पोल पर चढ़कर मैनुअली कनेक्शन काटने की जरूरत नहीं रहेगी

kanpur@inext.co.in

KANPUR: अगर आप लगातार बिल नहीं जमा कर रहे तो आपका इलेक्ट्रिसिटी कनेक्शन आटोमैटिक कट जाएगा. आपके घर न तो केस्को की गैंग पहुंचेगी और न ही वह पोल में चढ़कर आपकी इलेक्ट्रिसिटी केबल काटेगी. न ही अभी की तरह गैंग इम्प्लाइज से सेटिंग कर कनेक्शन कटने से बचा पाएंगे. स्मार्ट मीटर लगने पर डिवीजन ऑफिस में बैठे-बैठे ही केस्को ऑफिसर डिस्कनेक्शन कर देगा. यह सब स्मार्ट मीटर लगने के बाद संभव हो सका है. जो बिजली चोरी रोकने के साथ-साथ डिफाल्टर्स के लिए बड़ी आफत बन गई है.

गैंग से सेटिंग-गेटिंग के चलते..

केस्को के सिटी में लगभग 6.14 लाख कनेक्शन हैं. इनमें से हर महीने लगभग 75 परसेंट कन्ज्यूमर ही इलेक्ट्रिसिटी बिल जमा करते हैं. पिछले महीने ही करीब 4.64 लाख कन्ज्यूमर्स ने अपने इलेक्ट्रिसिटी बिल जमा किए हैं. बिल न जमा करने वालों के कनेक्शन काटने के लिए केस्को ने प्राइवेट गैंग रखी है. इन्हें प्रति डिस्कनेक्शन के हिसाब से पेमेंट किया जाता है. बावजूद इसके सेटिंग-गेटिंग के चलते डिफॉल्टर्स के घर रोशन रहते हैं. शायद यही वजह है कि केस्को का डिफॉल्टर्स पर करीब 2 हजार करोड़ से ज्यादा बकाया है.

स्मार्ट मीटर की खूबियां

- मीटर रीडर को घर-घर जाकर रीडिंग लेकर बिल बनाने की जरूरत नहीं

- केस्को मुख्यालय के स्मार्ट मीटर सेंटर में ही रीडिंग सहित बिल जेनरेट होगा

- स्मार्ट मीटर के बिल कंज्यूमर्स को एसएमएस के जरिए भेजा जा रहा है.

- बिल न जमा करने वालों के डिसकनेक्शन के लिए गैंग की जरूरत नहीं

- डिवीजन ऑफिस से ही डिफाल्टर्स की पॉवर सप्लाई बन्द कर दी जाएगी

.......

-- 6.14 लाख हैं सिटी में इलेक्ट्रिसिटी कनेक्शन

-- 75 परसेंट के लगभग कन्ज्यूमर हर महीने जमा करते हैं बिल

-- 2 हजार करोड़ से अधिक बकाया डिफॉल्टर्स पर

-- 23.28 करोड़ से अधिक बकाया है डिफॉल्टर्स पर 5 किवा. के कन्ज्यूमर्स पर

--1.56 लाख स्मार्ट पहले फेज में लगाए जा रहे हैं

-- 41 हजार के लगभग लग चुके हैं सिटी में स्मार्ट मीटर

----------

'' अभी केवल बड़े डिफॉल्टर्स के ही कनेक्शन डिस्कनेक्ट किए जा रहे हैं. इसके लिए एक्सईएन को पॉवर दी गई है. वह डिवीजनल ऑफिस में बैठे-बैठे कम्प्यूटर के जरिए डिफॉल्टर्स की पॉवर सप्लाई कट कर रहे हैं. डिफॉल्टर्स के पैसा जमा करने पर पॉवर सप्लाई चालू कर दी जाती है. आगे चलकर यह सिस्टम हर महीने कर दिया जाएगा.''

अजय कुमार, डायरेक्टर केस्को