-तिलक नगर के एल्डरॉडो अपार्टमेंट में सुबह 11:30 बजे हुई सनसनीखेज घटना, सूत कारोबारी की पत्नी थी, दो साल पहले हुई थी शादी

-महिला के घरवालों का आरोप दहेज की मांग पूरी न होने पर बेटी को ऊपर से फेंका गया, ससुर ने कहा रेलिंग साफ करते समय नीचे गिरी

-फ्लैट में मौजूद मेड ने पुलिस को बताई घटना के पहले की पूरी कहानी, पुलिस ने सास, ससुर, पति और नंद को हिरासत में लिया

kanpur@inext.co.in
KANPUR:  बर्थडे से ठीक 12 घंटे पहले अचानक हुई इस घटना से फैमिली मेंबर्स, फ्रेंडस और अपार्टमेंट में रहने वाले लोग सहम गए. महिला की दो साल पहले ही शादी हुई थी. मामला पारिवारिक कलह का बताया जा रहा है. महिला के पिता ने 20 लाख की दहेज की मांग पूरी न होने पर पति, ससुर, सास और ननद पर उसको सातवीं मंजिल से फेंककर हत्या करने का आरोप लगाया है. पुलिस को जांच के दौरान एक चश्मदीद गवाह भी मिल गया. पुलिस ने बयान और तहरीर के आधार पर सभी आरोपियों को हिरासत में ले लिया है.

सरप्राइज पार्टी की हो रही थी तैयारी
रावतपुर मोती विहार निवासी पदम अग्रवाल का पेपर का कारोबार है. परिवार में पत्नी रानू, दो बेटियां गीतिका और हर्षिता थीं. हर्षिता की 24 जनवरी 2017 को तिलक नगर स्थित एल्डराडो अपार्टमेंट निवासी सुशील अग्रवाल के बेटे उत्कर्ष से शादी हो गई थी. सुशील का अपार्टमेंट की सातवीं मंजिल पर फ्लैट है. उनका अनुशील फिलामेंट नाम से सूत का कारोबार है. जिसका सारा कामकाज बेटा उत्कर्ष देखता है. हर्षिता का संडे(आज) को बर्थडे था. हर्षिता के माता पिता, बहन समेत अन्य परिजन उसको सरप्राइज पार्टी देने की तैयारी कर रही थे. उन्होंने रात 12 बजे हर्षिता से केक कटवाने का प्लान किया था. लेकिन, इस बीच सुबह 11.30 बजे हर्षिता के मरने की खबर ने सभी को हिलाकर रख दिया. ससुर सुशील ने हर्षिता के परिजनों को उसकी हादसे में मौत की जानकारी दी.

बहुत हिम्मत वाली थी वो..
हर्षिता की मौत की खबर मिलते ही बदहवास परिजन भागकर एल्डरॉडो अपार्टमेंट पहुंचे तो वहां पर फर्श पर हर्षिता का शव पड़ा था. ससुर ने परिजनों को बताया कि हर्षिता विंडो की रेलिंग साफ करते हुए नीचे गिर गई, लेकिन परिजनों को उन पर भरोसा नहीं हुआ. उन्होंने ससुराल वालों पर ही उसको सातवीं मंजिल से फेंककर हत्या का आरोप लगाया. सभी का कहना था कि हर्षिता सुसाइड नहीं कर सकती. वो बहुत हिम्मत वाली लड़की थी. इस बीच पुलिस पति और ससुर को हिरासत में लेकर थाने चली गई. हर्षिता के मायके वालों के आरोपों पर ससुर सुशील ने कहा कि हमारे घर का माहौल ऐसा नहीं है. कभी मारपीट या कोई लड़ाई झगड़ा नहीं हुआ. किसी बात को लेकर छोटी-मोटी बहस हो सकती है लेकिन इस तरह के आरोप निराधार हैं.

मैडम ने झाड़ू से मारा तो कूद गई
हर्षिता के घर पर पांच दिन पहले ही शकुंतला नाम की नई मेड काम करने आई थी. हर्षिता जब फ्लैट से नीचे गिरी, उस वक्त शकुंतला फ्लैट के अंदर काम कर रही थीं. उसने बताया कि फ्लैट पर मैडम रानू (सास), उनकी बेटी परिधि और भाभी हर्षिता थीं. सुबह फ्लैट की सफाई को लेकर मैडम, भाभी जी पर गुस्सा करते हुए कह रही थीं कि तुम दिन भर रूम में ही पड़ी रहती हो. सफाई हो या न हो, तुमको कोई मतलब नहीं है. इस पर भाभी जी ने कहा कि अगर सफाई वाली नहीं आएगी तो वह सफाई कर देंगी. इस पर मैडम और उनकी बेटी इतना भड़क गई कि उन लोगों ने झाड़ू से भाभी जी को पीट दिया. इससे भाभी जी इतना नाराज हो गई कि वह विंडो खोलकर नीचे कूद गई.

एक बार तो बचा लिया..
मेड शकुंतला के मुताबिक, मैडम के चिल्लाने पर भाभी जी ने गुस्से में अलमारी से पर्स उठा लिया और कार की चाबी उठाते हुए बोलीं कि मैं मरने जा रही हूं. शकुंतला के मुताबिक उसने भाभी जी को समझाकर शांत करा दिया. भाभी कमरे में चली गई. इस बीच मैडम दोबारा बड़बड़ाने लगीं. जिससे भाभी जी इतने गुस्से में आ गई कि वह विंडो खोलकर कूदने लगीं. किसी तरह उन्हें खींचकर वहां से हटा दिया. इसके बाद भी मैडम और उनकी बेटी शांत नहीं हुई. उन्हें लगा कि भाभी जी नाटक कर रही हैं और फिर से बड़बड़ाने लगीं. इस बार भाभी जी तेजी से भागकर विंडो के पास गई और यह कहकर कूद गईं कि मेरी मौत के बाद ही दोनों को चैन आएगा.

साहब और भइया मौजूद नहीं थे
मेड शकुंतला ने बताया कि साहब (सुशील) और भइया (उत्कर्ष) सुबह निकल गए थे. उनके जाने के बाद ही मैडम और उनकी बेटी बड़बड़ाने लगी थीं. उन लोगों ने भाभी जी को भइया के बुलाने की धमकी भी दी थी. दोनों कह रही थीं कि अभी उत्कर्ष को बुला रहे है. वही तुमको ठीक (पीटेगा) करेगा.

सब उसे काजल भाकहते थे
एक रिश्तेदार ने टीवी पर आने वाले पांच बहनों के सीरियल का उदाहरण देते हुए बताया कि हर्षिता बहुत हिम्मत वाली थी. इसी वजह से सभी उसको प्यार से काजल भाई बोलते थे. परिवार की सभी बहनों को वह प्रोटेक्ट करती थी. बहनों के लिए किसी से भी झगड़ जाती थी.

ढाई साल में खत्म हुई लव स्टोरी
हर्षिता उत्कर्ष को बहुत प्यार करती थी. हर्षिता की फेसबुक प्रोफाइल और उसकी पोस्ट से भी इसकी पुष्टि होती है. कुछ दिनों पहले दोनों हॉलीडे पर विदेश घूमने गए थे. हर्षिता ने 19 जून को उत्कर्ष के साथ फोटो पोस्ट की थी. हर्षिता ने शादी के बाद जितनी भी फोटो पोस्ट की थीं, सभी उत्कर्ष के साथ थीं.

 

सास व ननद को पीटने की कोशिश
पुलिस ने पति और ससुर को पहले ही हिरासत में ले लिया था. जांच के बाद सास और ननद को भी हिरासत में लेकर पुलिस थाने ले लाने लगी तो उनको देखकर हर्षिता के रिश्तेदार भड़क गए. सास और ननद को पीटने की कोशिश की लेकिना पुलिस उनको बचाकर थाने ले गई.