-दोनों अलग अलग समुदाय के थे, प्रेमी पहले से शादीशुदा भी था

-दो महीने पहले घर से भागकर शादी की थी, आनर किलिंग का शक

kanpur@inext.co.in

KANPUR : घाटमपुर में किशोरी की हत्या का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि बुधवार को प्रेमी प्रेमिका की मौत से हड़कंप मच गया. दोनों अलग अलग समुदाय से थे. दोनों के शव गांव के प्राथमिक विद्यालय में पड़े मिले. बताया जा रहा है कि घर और गांव वालों की प्रताड़ना से परेशान होकर दोनों ने सल्फास खाकर जान दी है. उनके पास से सुसाइड नोट भी मिला है. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम भेजकर जांच शुरू कर दी.

घाटमपुर के परास गांव निवासी शब्बीर मिया का बेटा आजाद (40) आपराधिक प्रवृत्ति का था. वह शादीशुदा था. उसके एक बच्चा भी है. उसको कुछ साल पहले दलित किशोरी से छेड़खानी के मामले में चार साल की सजा सुनाई गई थी. आजाद का दूसरे संप्रदाय की एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था. वह दो महीने पहले युवती को घर से भगा ले गया था. उसने युवती से कोर्ट मैरिज की थी. इसके बाद से वह गांव के बाहर रह रहा था. बुधवार सुबह दोनों के शव गांव के प्राथमिक विद्यालय में पड़े थे. युवती का शव विद्यालय के किचन शेड के बाहर पड़ा था, जबकि आजाद का शव बरामदे में पड़ा था. उसके शव के पास सुसाइड नोट, सल्फास की बंद डिब्बी और नमकीन का खुला पैकेट पड़ा था. इससे माना जा रहा है कि दोनों ने सल्फास खाकर खुदकुशी की है. इंस्पेक्टर, सीओ शैलेंद्र सिंह और एसपी ग्रामीण प्रद्युम सिंह ने मौके पर जाकर जांच की. इसके बाद शवों को पोस्टमार्टम भेज दिया गया.

जेल से छूटने के बाद युवती को लेकर भाग गया था

परास निवासी आजाद छेड़खानी में सजा सुनाए जाने के बाद जेल में बंद था. वह करीब तीन महीने पहले जमानत पर छूटा था. जेल से छूटने के बाद उसने गांव की दूसरे संप्रदाय की युवती से प्रेम संबंध हो गए थे. उसने युवती के परिजनों से शादी की बात की, लेकिन वे राजी नहीं हुए. इस पर वह युवती को घर से भगा ले गया. परिजनों ने युवती की छोटी बहन की ओर से आजाद पर छेड़खानी का मुकदमा दर्ज करा दिया. पुलिस ने आजाद को युवती के साथ गिरफ्तार किया तो युवती ने कोर्ट में परिजनों के खिलाफ बयान देकर कहा कि वह आजाद के साथ रहना चाहती है. कोर्ट से क्लीन चिट मिलने के बाद आजाद युवती के साथ मछरिया में किराये का कमरा लेकर रहने लगा.

ऑनर किलिंग का भी शक जताया जा रहा

आजाद युवती के साथ मछरिया में रह रहा था. परिजनों का कहना है कि अगर दोनों को खुदकुशी करना था तो वे मछरिया में भी कर सकते थे. फिर दोनों ने गांव आकर खुदकुशी क्यों की. परिजनों ने उनके साथ अनहोनी का शक जताया है. माना जा रहा है कि दोनों को किसी ने गांव में बुलाया था. गांव में ही दोनों के साथ कुछ हुआ. जिसकी वजह से दोनों ने खुदकुशी कर ली या उनकी हत्या कर दी गई.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मौत का कारण पता चलेगा. सुसाइड नोट मिला है. जिसमें दोनों ने कुछ लोगों को मौत का जिम्मेदार बताया है. हर बिंदु पर जांच की जा रही है.

प्रद्युम सिंह, एसपी ग्रामीण