- क्यूसीआई की टीम आने की सूचना पर नगर निगम को याद आया कम्यूनिटी टॉयलेट का हाल

kanpur@inext.co.in

KANPUR : स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगर निगम की तरफ से टॉयलेट्स तो बना दिए, लेकिन इनकी क्वालिटी सवालों के घेरे में है. जिन ट्वॉयलेट्स को नगर निगम ने बेस्ट माना, वहां पर कहीं छत से पानी टपक रहा है तो कहीं इलेक्ट्रिसिटी कनेक्शन नहीं है. अब ओडीएफ प्लस प्लस के मानकों को जांचने के लिए क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया की टीम कानपुर आने वाली है. ऐसे में अफसरों को अब इन ट्वॉयलेट्स की याद आई है. बड़े अफसर अपने मातहतों को कार्रवाई की घुड़की देकर कमियों को ठीक कराने की कवायद में जुटे हैं.

जोन-3 के ट्वॉयलेट बेकार

क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया की टीम के निरीक्षण से पहले नगर निगम अफसरों ने जब शहर में बनाए गए ट्वॉयलेट्स की हालत देखी तो दिमाग घूम गया. जोन-3 में 18 बेस्ट ट्वॉयलेट्स के हालात बहुत खराब मिले हैं. इसकी चीफ इंजीनियर को रिपोर्ट भेजी गई हैं. जिसमें कहा गया है कि क्यूसीआई के निरीक्षण में कोई कमी पाई गई तो संबंधित जोनल अभियंता के निलंबन की संस्तुति शासन से की जाएगी.

यहां ट्वॉयलेट्स बेहद खराब

बाकरगंज चौराहा, साउथ एक्स मॉल, गल्लामंडी बिनगवां, एच ब्लॉक किदवईनगर, झकरकटी बस अड्डा, शहीद पार्क जूही गढ़ा, राखी मंडी, बाबाकुटी चौराहा, पटेल चौक बर्रा-2, बर्रा बाईपास, रामगोपाल चौराहा, 40 दुकान और फाउंटेन पार्क किदवई नगर.