- शांतिपूर्ण ढंग से निकला जुलूस-ए-मोहम्मदी

- संडे की छुट्टी होने का मिला फायदा, रोड्स पर पसरा रहा सन्नाटा

- एलआईयू और खुफिया को भी मिल रहे सकारात्मक इनपुट

kanpur@inext.co.in

KANPUR :

अयोध्या रामजन्म भूमि के फैसले के दूसरे दिन भी पुलिस अलर्ट मोड पर रही. पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती जुलूसे मुहम्मदी शांति पूर्ण ढंग से निकल गया. पुलिस ने जुलूस के रूट पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे. शरारती तत्वों पर नजर रखने के लिए पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे भी लगाए थे. देर शाम को जुलूस खत्म होने पर पुलिस अफसरों ने राहत की सांस ली. पुलिस अफसरों ने दोनों पक्षों के धर्मगुरुओं का आभार भी व्यक्त किया.

छुट्टी का मिला फायदा

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के दूसरे दिन रविवार की छुट्टी होने से पुलिस की आधी मुश्किलें खत्म हो गई थीं. छुट्टी होने से रोड्स पर सन्नाटा पसरा रहा. शाम को जरूर कुछ लोग परिवार के साथ टहलने के लिए निकले, लेकिन वे भी जल्दी घर चले गए. सिर्फ जुलूस के रूट पर ही भीड़ जमा थी.

एलआईयू भी कर रही निगरानी

पुलिस के साथ ही एलआईयू और खुफिया भी संदिग्ध और शरारती तत्वों की निगरानी कर रही है. वहीं, पुलिस की आईटी सेल सोशल मीडिया पर नजर रख रही है. किसी को भी कहीं से कोई गंभीर इनपुट नहीं मिला है.

रात को सभी थानेदारों ने की गश्त

एसएसपी के आदेश पर सभी थानेदारों ने रात को गश्त बढ़ा दी है. जिसकी मानीटरिंग खुद एसएसपी कर रहे हैं. इसके अलावा एसएसपी, आईजी और एडीजी ने खुद फोर्स के साथ गश्त की.

धर्मगुरुओं ने भी अमन चैन की अपील की

पुलिस और प्रशासनिक अफसरों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के पहले होमवर्क कर लिया था. उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था की तैयारी के साथ ही धर्मगुरुओं, बुद्धजीवी, सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग की थी. जिसका फायदा अफसरों को फैसला आने के बाद मिला. फैसला आने पर धर्मगुरुओं समेत अन्य लोगों ने अमन चैन की अपील की.

Posted By: Inextlive