-- 392 पेड़ों में सिर्फ 164 को काटने के लिए फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने एनओसी दी, फॉरेस्ट व एलएमआरसी का ज्वाइंट सर्वे

--प्रोटेक्टेड फॉरेस्ट एरिया में आने वाले हरे पेड़ों के लिए सेंट्रल एनवॉयरमेंट मिनिस्ट्री से मिलेगी काटने की परमीशन

kanpur@inext.co.in

KANPUR: आईआईटी से मोतीझील के बीच कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट का खाका खींचा जा चुका है. इस प्रॉयोरिटी सेक्शन में एलीवेटेड ट्रैक और 9 मेट्रो स्टेशन के रास्ते में 392 पेड़ आ रहे हैं. इनमें से 164 पेड़ों को फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने एनओसी जारी कर दी है, लेकिन आईआईटी से गोल चौराहा के बीच जीटी रोड के पैरलल लगे 228 पेड़ों को लेकर पेंच फंसा हुआ है. इनमें से काफी संख्या में पेड़ प्रोटेक्टेड फॉरेस्ट एरिया में होने की आशंका से फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने एनओसी नहीं दी है. इन पेड़ों को काटने की परमीशन एलएमआरसी को सिटी या स्टेट से नहीं बल्कि सेंट्रल एनवॉयरमेंट मिनिस्ट्री से मिलेगी. फिलहाल फॉरेस्ट व लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन की टीम प्रोटेक्टेड फॉरेस्ट एरिया में आने वाले पेड़ों का ज्वाइंट सर्वे कर रही है.

टेंडर फाइनल होने से पहले तैयारी

दरअसल सबसे पहले आईआईटी से मोतीझील के बीच मेट्रो दौड़ेगी. इस प्रॉयोरिटी सेक्शन के लिए टेंडर किए जा चुके हैं. एलीवेटेड ट्रैक और 9 मेट्रो स्टेशन बनाने के लिए एफकांस इंफ्रास्ट्रक्चर लगभग फाइनल हो चुकी है. लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन से कम्पनी को टेंडर अवार्ड होने का लेटर भी मिल गया है. हालांकि, इससे पहले ही कम्पनी ने काम को लेकर तैयारी शुरू कर दी थी. थर्सडे को 5 सदस्यीय टीम ने आईआईटी से मोतीझील तक प्रपोज्ड रूट और मेट्रो स्टेशंस को लेकर इंस्पेक्शन किया था.

164 पेड़ों की मिली एनओसी

इधर लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन के ऑफिसर जल्द से जल्द जरूरी एनओसी हासिल करने में जुटे हुए हैं. इसी कड़ी में एलीवेटेड ट्रैक व मेट्रो स्टेशंस के रास्ते में आने वाले 164 पेड़ों की एनओसी फॉरेस्ट डिपार्टमेंट ने जारी कर दी है. ये पेड़ जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज, नगर निगम, यूपी पुलिस, केडीए, आल इंडिया रेडियो, रोडवेज की प्रॉपर्टीज पर लगे हैं. इससे पहले पॉलीटेक्निक में बन रहे मेट्रो यार्ड आदि के रास्ते में आ रहे 624 पेड़ों की एनओसी फॉरेस्ट डिपार्टमेंट जारी कर चुका है.

'ज्वाइंट सर्वे के बाद प्रोटेक्टेड फॉरेस्ट एरिया में आने वाले पेड़ों की सही संख्या पता चल जाएगी. पीएफ एरिया में आने वाले पेड़ों को काटने की परमीशन एलएमआरसी को सेंट्रल एनवॉयरमेंट मिनिस्ट्री से लेनी होगी.'

- अरविन्द कुमार, डीएफओ

.............

डिपार्टमेंट -- पेड़ों की संख्या

जीटी रोड(फॉरेस्ट)-- 228

जीएसवीएम-- 60

हैलट हॉस्पिटल-- 38

नगर निगम-- 01

यूपी पुलिस-- 06

केडीए-- 27

आल इंडिया रेडियो-- 04

यूपीएसआरटीसी--28

टोटल-- 392