-- झाड़ी बाबा पड़ाव से नरौना चौराहा होते हुए मेघदूत तिराहा तक बनाई जा रही मॉडल स्मार्ट रोड

KANPUR: स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत 2.3 किलोमीटर लंबी मॉडल स्मार्ट रोड का काम कई डिपार्टमेंट की एनओसी न मिलने के कारण प्रभावित है. मंडे को म्यूनिसिपल कमिश्नर ने धीमी रफ्तार देख नाराजगी जताई. उन्होंने सबसे पहले झाड़ी बाबा पड़ाव से पनचक्की चौराहा तक मॉडल रोड बनाने को कहा. जिससे कानपुराइट्स के अलावा अन्य डिपार्टमेंट भी देख सकें.

2.3 किलोमीट लंबी

झाड़ी बाबा पड़ाव, नरौना चौराहा होते हुए मेघदूत तिराहा तक 2.3 किमी. की शहर की पहली मॉडल स्मार्ट रोड बनाई जा रही है. मंडे को म्यूनिसिपल कमिश्नर एसके शर्मा, एएमसी अमृत लाल बिन्द अन्य ऑफिसर्स के साथ पहुंचे. झाड़ी बाबा से पनचक्की चौराहे तक रोड के दोनो ओर काम होते मिला. 4 मीटर की चौड़ाई पर दो डबल वॉल व एक सिंगल वाल कोग्रटेड लाइन बिछाई गई है.

जिससे न करनी पड़े रोड कटिंग

पीपीएस बिल्डर्स के इम्प्लाइज ने बताया कि दो डबल वॉल में से एक में ड्रिकिंग वाटर लाइन और दूसरी में पीएनजी लाइन रहेगी. दो स्थानों पर रोड कटिंग करके क्रॉस डक्ट भी बनाए गए हैं. जिससे बाद में किसी यूटिलिटी सर्विस के लिए रोड दोबारा कटिंग न करनी पड़े. उन्होंने बताया कि अभी तक केवल आर्डिनेंस फैक्ट्री, केस्को से परमीशन मिली है. अन्य विभागों से एनओसी न मिल पाने के कारण काम प्रभावित है. म्यूनिसिपल कमिश्नर ने कहा स्मार्ट सिटी के कार्यो के लिए अन्य डिपार्टमेंट्स को भी जल्द परमीशन देनी होगी.