कलबुर्गी (कर्नाटक) (एएनआई)। भारत के मौसम विभाग (IMD) द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, कर्नाटक के कलबुर्गी जिले में मंगलवार को अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बढ़ते पारे के स्तर से यहां के लोग गर्मी को मात देने के लिए गन्ने के रस और कोल्ड ड्रिंक का सेवन करते देखे गए। चिलचिलाती धूप से राहत के लिए पशु-पक्षी भी पानी खोजते देखे जा सकते हैं। क्षेत्र के स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से सड़कों पर पानी का छिड़काव करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने का अनुरोध किया, ताकि तापमान में गिरावट आए। हम पिछले दो दिनों से इस जिले में हीट वेव का सामना कर रहे हैं, और यहां तक कि तापमान दैनिक आधार पर 44 से 45 डिग्री के आसपास है। इसलिए यह कलबुर्गी में बहुत खतरनाक स्थिति है।

पानी और ताजे फलों का रस नहीं मिल पाता

इस संबंध में एक स्थानीय नागरिक ने कहा कि जब हम शहर में घूमते हैं, तो हमें पानी और ताजे फलों का रस नहीं मिल पाता है, और अगर ताजा रस मिलता है, तो भी हम कोरोना वायरस से संक्रमित होने से डरते हैं। अगर हम ठंडा पानी ले जाते हैं, तो यह आधे घंटे के भीतर गर्म हो जाता है, और पीने के लिए अयोग्य हो जाता है। इस समय यह हमारे लिए कठिन परिस्थिति है। मैं जिला प्रशासन से अनुरोध करता हूं कि वह इस मामले को देखें और जरूरतमंदों को थोड़ी राहत के लिए सड़कों पर पानी आदि का छिड़काव कराए।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk