नई दिल्ली (पीटीआई)। सलामी बल्लेबाज केएल राहुल को गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी टेस्ट श्रृंखला के लिए घोषित भारतीय टेस्ट टीम में जगह नहीं मिली है, जिसकी वजह से रोहित शर्मा का सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाना तय माना जा रहा है।

गिल को मौका, रोहित को ओपनिंग  

पंजाब के बल्लेबाज शुभमन गिल को बैक-अप फ्लोटर के रूप में टेस्ट टीम में जगह दी गई है, जो सलामी बल्लेबाज और मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में फिट हो सकते हैं। सेलेक्शन कमेटी के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने पैनल की बैठक के बाद कहा कि 'हां, हम निश्चित रूप से उनकी (रोहित) ओर देख रहे हैं और उसे मौका देना चाहते हैं। वह (ओपनिंग) उत्सुक हैं और चयन समिति के साथ-साथ हर कोई (टीम प्रबंधन) यह चाहता है। हम देखना चाहते हैं कि वह किस क्रम पर फिट होंगे फिर उसी अनुसार निर्णय लिया जायेगा।

प्लेइंग इलेवन में पंत की जगह ले सकते साहा  

प्रसाद ने कहा कि 'जहां तक शुभमन गिल का सवाल है, हम उन्हें सलामी बल्लेबाज के साथ-साथ मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में देखते हैं। हम उन्हें दोनों स्लॉट के लिए बैक-अप के रूप में देख रहे हैं। जब तक वह अधिक से अधिक खेलते रहेंगे, उन्हें मौके मिलते रहेंगे। क्योंकि वह तीनों फॉरमेट के प्लेयर हैं। एक और महत्वपूर्ण बदलाव यह है कि ऋषभ पंत टीम में अपनी जगह बनाए रखने के बावजूद, प्लेइंग इलेवन में अपने से अधिक अनुभवी रिद्धिमान साहा उनकी जगह ले सकते हैं।

10 अक्टूबर से शुरू होगी टेस्ट सीरिज  

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत का पहला टेस्ट 2 अक्टूबर को विशाखापत्तनम में शुरू होगा, जबकि दूसरा और तीसरा मैच क्रमशः पुणे (10-14 अक्टूबर) और रांची (19-23 अक्टूबर) में होगा। घरेलू सीरिज होने के कारण उमेश यादव को टीम में जगह नहीं मिली है, भारतीय परिस्थितियों में टीम में चार विशेषज्ञ पेसरों की गुंजाइश नहीं ही है, जबकि केवल दो ही अंत में खेलेंगे।

वार्म मैच में रोहित को कप्तानी

रोहित 26 सितंबर से विजयनगरम में प्रोटियाज के खिलाफ तीन दिवसीय वॉर्म-अप मैच में बोर्ड अध्यक्ष एकादश की कप्तानी करेंगे, जहां वह नई भूमिका में भी खुद को परखेंगे। 32 साल के रोहित की व्हाइट बॉल क्रिकेट में शानदार सफलता ने चयनकर्ताओं को उनके बल्लेबाजी क्रम के बारे में सोचने को मजबूर कर दिया। प्रसाद ने कहा कि 'वह एक दशक (छह साल से) व्हाइट-बॉल क्रिकेट में ओपनिंग कर रहे हैं और मुझे यकीन है कि उनके पास बल्लेबाजी क्रम ऊपर आने की क्षमता है। अगर वह रेड बॉल क्रिकेट में अपने व्हाइट बॉल क्रिकेट के प्रदर्शन जिसे हमने देखा है को दोहराते हैं तो इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता हे।

केएल राहुल खराब फॉर्म के शिकार  

केएल राहुल के लिए, जिन्होंने 18 महीनों में केवल एक टेस्ट शतक बनाया है, प्रसाद ने कहा कि कर्नाटक के खिलाड़ी को पर्याप्त मौके मिले लेकिन परफार्मेंस में कमी ने पैनल को बदलाव के लिए मजबूर किया। प्रसाद ने कहा, 'हमने निश्चित रूप से केएल से बात की। वह असाधारण प्रतिभा के धनी हैं और दुर्भाग्य से रेड बॉल क्रिकेट में उनकी फॉर्म खराब चल रही है।' उन्होंने कहा कि 'शिखर धवन और मुरली विजय की अनुपस्थिति में, हम दोनों सलामी बल्लेबाजों को बदलते नहीं रह सकते हैं। किसी को टिककर खेलना होगा। केएल को पर्याप्त मौके मिले। दुर्भाग्य से, उनके खेल में निरतंरता नहीं रही, हमने उनका साथ दिया क्योंकि जब वह लय में होते हैं तो वह देखने लायक होता है।' यह पूछे जाने पर कि राहुल के लिए आगे की राह क्या है, प्रसाद ने वीवीएस लक्ष्मण का उदाहरण दिया। प्रसाद ने कहा, 'जब वीवीएस लक्ष्मण को भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया था, तब उन्होंने घरेलू क्रिकेट में वापसी की थी। रणजी ट्रॉफी में 1400 रन बनाए और वापस आए। केएल को भी यही करना है।'

सलामी बल्लेबाजों का पूल

चयनकर्ताओं ने संकेत दिया कि उन्होंने सलामी बल्लेबाजों का एक पूल बनाया है और जिसे भी अब मौका मिलेगा, राहुल की तरह पर्याप्त समय दिया जाएगा। प्रसाद ने कहा कि 'तो आप जानते हैं, पाइपलाइन में, शुभमन ओपनिंग कर रहा है और हमारे पास प्रियांक पांचाल और अभिमन्यु ईश्वरन हैं, जो बहुत अच्छा कर रहे हैं। उपलब्ध प्लेयर्स को, हम पर्याप्त मौके देने की कोशिश करेंगे।' प्रसाद के अनुसार 'जिसको भी मौका मिलता है, उसे अच्छा मौका मिलता है। हमारे पास विकल्प और बैक-अप हैं, हमने बेंच स्ट्रेंथ बनाई है।'

पांड्या टीम में नहीं, पंत-साहा में कौन पहली पसंद  

ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को टीम में शामिल नहीं किया गया क्योंकि भारतीय परिस्थितियों में उन्हें इलेवन में फिट करने की बहुत कम संभावना है। प्रसाद के मुताबिक, 'हार्दिक टीम में नहीं है क्योंकि अगर आप घरेलू परिस्थितियों को देखते हैं, तो वह इसमें फिट नहीं होते हैं।' प्रसाद ने यह भी उचित संकेत दिया कि ऋषभ पंत के साथ टीम प्रबंधन का धैर्य आखिरकार चुक रहा है, हालांकि वह सेलेक्शन पैनल की पहली पसंद बने हुए हैं। यह पूछने पर कि ऋषभ या रिद्धिमान में से कौन पहली पसंद है, प्रसाद ने घुमा फिराकर जवाब दिया। उन्होंने कहा कि 'मेरा जवाब एक ही है। आइए देखते हैं। ऋषभ निश्चित रूप से लेकिन हम देखेंगे कि क्या टीम प्रबंधन उसी तर्ज पर सोचता है। चलो इसे छोड़ दें। भारत में भी, हमें घरेलू मैदान पर खेलने के अनुभव वाले एक कीपर की आवश्यकता है। चलो देखते हैं कि यह कैसे किया जाता है।' प्रसाद ने यह भी कहा कि 'अभी उमेश के टीम में नहीं हो सकते क्योंकि यह दो सीमर होंगे जो खेलेंगे। यदि यह वास्तव में एक सीमिंग ट्रैक है, तो हम तीसरे के लिए जाते हैं। इसलिए उमेश नहीं खेल सकते हैं। उनके लिए घरेलू क्रिकेट खेलना बेहतर रहेगा, हम घरेलू सत्र में हैं। वह भारत ए साइड में हैं।

टेस्ट टीम: विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), हनुमा विहारी, ऋषभ पंत (विकेट कीपर), रिद्धिमान साहा (विकेट कीपर), रविचंद्रन आश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा, शुभमन गिल।

बोर्ड प्रेसीडेंट इलेवन: रोहित शर्मा (कप्तान), मयंक अग्रवाल, प्रियांक पांचाल, एआर ईश्वरन, करुण नायर, सिद्धेश लाड, केएस भारत (विकेट कीपर), जलज सक्सेना, धर्मेद्र सिंह जडेजा, अवेश खान, इशान पोरल, शार्दुल ठाकुर, उमेश यादव।

Posted By: Mukul Kumar

Cricket News inextlive from Cricket News Desk