features@inext.co.in  

KANPUR: एक्ट्रेस कंगना रनोत, जो जल्द 'रानी लक्ष्मीबाई' का रोल करती नजर आने वाली हैं, महिलाओं की शक्ति में यकीन रखती हैं। कंगना के मुताबिक, 'जब मैं बड़ी हो रही थी तो मुझे चाइल्ड हीरो समझा जाता था। मैं सेंसिटिव थी और सबकी बात मानती थी लेकिन जब मुझे बंधन तोड़ने का मौका मिला तो मैं उड़ गई।'
'जब मां चोरी से करती थी फोन,हर दिन पूछती थी सिर्फ एक ही बात' : कंगना रनौत
मां चोरी से करती थी फोन
कंगना बोलीं, 'मेरी फैमिली में किसी को भी मुझसे बात करने की इजाजत नहीं थी पर मेरी मां छिपकर मुझे फोन करती थीं और पूछती थीं, 'आज क्या खाया?' वह और कोई सवाल नहीं करती थीं। उन दिनों में मुझे एहसास हुआ कि प्यार और भगवान ही सच हैं और दोनों ही महिलाएं हैं।'
'जब मां चोरी से करती थी फोन,हर दिन पूछती थी सिर्फ एक ही बात' : कंगना रनौत
नहीं दबाएं महिलाओं को

तब से ही मुझे नारी शक्ति में यकीन हुआ और लगा कि यह शक्ति ही हमें मजबूत कर सकती है। हमें उन्हें मजबूत बनाने की जरूरत नहीं है, वे पहले से ही बहुत पावरफुल हैं। यही वजह है कि आज भी मानवता और मानव जाति कायम है। हमारी कोशिश सिर्फ इतनी होनी चाहिए कि हम उन्हें दबाएं नहीं। हमें उनकी ताकत पहचानने की जरूरत है।'

अपनी इस फिल्म के डायरेक्टर पर कंगना का यौन शोषण का आरोप, कहा- 'मुझे कसकर पकड़ करते थे ये'

'रणवीर-आलिया प्यार में हैं और जल्द ही अपने रिलेशन को नाम दे सकते हैं' : महेश भट्ट

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk