- बेतियाहाता स्थित नर्सिग होम को सीएमओ ने चार दिन पहले ही करा दिया था सील

<- बेतियाहाता स्थित नर्सिग होम को सीएमओ ने चार दिन पहले ही करा दिया था सील

GORAKHPUR: GORAKHPUR: कोरोना ने धीरे-धीरे गोरखपुर में हर तरफ पांव फैलाने शुरू कर दिए हैं। शुक्रवार को चार पॉजिटिव केस आए। सीएमओ डॉ। श्रीकांत तिवारी ने बताया कि सिटी के प्राइवेट हॉस्पिटल के डॉक्टर का असिस्टेंट इसकी चपेट में है। असिस्टेंट को बीआरडी मेडिकल कॉलेज के आईसोलेशन वार्ड में एडमिट करा दिया गया है। वहीं, देर शाम पिपराइच थाना क्षेत्र के एक युवक के साथ चिलुआताल थाना क्षेत्र के दो लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। सीएमओ ने बताया कि यह सभी प्रवासी मजदूर हैं। जिन्हें क्वारंटीन किया गया था।

हॉस्पिटल सील

क्9 मई को सिटी के बरगदवां की रहने वाली एक हार्ट पेशेंट महिला का बेतियाहाता स्थित प्राइवेट हॉस्पिटल में ईसीजी हुआ था। कंडीशन सीरियस होने पर उन्हें एसजीपीजीआई लखनऊ रेफर कर दिया गया, जहां की कैथ लैब में बिना कोरोना जांच के महिला की एंजियोग्राफी कर पेसमेकर लगा दिया गया। इसके बाद जांच कराई गई तो रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। जैसे ही इसकी सूचना गोरखपुर सीएमओ डॉ। श्रीकांत तिवारी को मिली उन्होंने आनन-फानन में पहुंचकर बेतियाहाता स्थित प्राइवेट हॉस्पिटल को सील करा दिया। वहीं महिला का इलाज करने वाले डॉक्टर्स, नर्स, टेक्नीशियन और बाकी स्टाफ की कोरोना जांच के लिए आश्वस्त किया।

रिपोर्ट में देरी पर उठ रहे सवाल

बताया जा रहा है कि पॉजिटिव रिपोर्ट गुरुवार देर साम तक आ गई थी। जबकि इसे शुक्रवार को घोषित किया गया। वहीं, पहले दावा किया जा रहा था कि हॉस्पिटल के सभी स्टाफ का सैंपल लिया जाएगा। लेकिन अभी तक सिर्फ दो की ही रिपोर्ट आ पाई है।

सीएमओ ने प्राइवेट हॉस्पिटल वालों से की अपील

वहीं सीएमओ डॉ। श्रीकांत तिवारी ने एनेक्सी भवन में इंफेक्शन कंट्रोल के लिए क्भ्7 प्राइवेट हॉस्पिटल संचालकों को ट्रेनिंग दी। उन्होंने सभी प्राइवेट हॉस्पिटल संचालकों से अपील की है कि वह इंफेक्शन कंट्रोल को ध्यान में रखते ही सेवाएं दें। ऐसा कर डॉक्टर, उनके स्टॉफ और मरीज सभी सुरक्षित रह सकेंगे। उन्होंने कहा कि प्राइवेट हॉस्पिटल को चाहिए कि मास्क, ग्लव्स और परिस्थितियों के अनुसार पीपीई किट का इस्तेमाल करही इलाज किया जाए। अस्पतालों में इंफेक्शन कंट्रोल हो रहा है कि नहीं, इसकी जांच के लिए बनी इंफेक्शन कंट्रोल कमेटी के सदस्य प्राइवेट हॉस्पिटल का दौरा कर आवश्यक निर्देश देंगे। जानबूझ कर की जा रही लापरवाही के मामले में आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

वर्जन

प्राइवेट नर्सिग होम के एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बाकी की रिपोर्ट आना बाकी है। हॉस्पिटल सील है। जिले में कुल फ्ख् केस हो चुके हैं।

डॉ। श्रीकांत तिवारी, सीएमओ

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner