सहायक श्रमायुक्त कार्यालय पर सोलर लाइट लेने जुटी श्रमिकों की भीड़

फीरोजाबाद : गरीब मजदूरों के आवास भी अब रोशन होंगे. घर से अंधेरा भगाने के लिए उन्हें बिजली का बिल भी नहीं भरना होगा. सोलर लाइट से घर जगमगाने के लिए गुरूवार को दर्जनों श्रमिकों ने सहायक श्रमायुक्त कार्यालय पहुंचकर विद्युत उपकरण प्राप्त किए.

उत्तर प्रदेश भवन एवं सन्निर्माण योजना के अंतर्गत निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों को विभिन्न प्रकार की योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है. इन्हीं में से एक हैं सोलर लाइट योजना. जिसमें एक श्रमिक परिवार को 9 हजार 360 रुपये कीमत की सोलर लाइट प्रदान की जाती है. इसमें एक सोलर पैनल, तीन बल्व और एक बैट्री शामिल है. वर्ष 2014-15 में इस योजना के अंतर्गत 241 श्रमिकों को लाभान्वित करने का लक्ष्य दिया गया था.

गुरूवार को सहायक श्रमायुक्त कार्यालय में आवेदन के आधार पर इतने ही चयनित श्रमिकों को बुलाया गया. जिससे कार्यालय परिसर में मेला सा लग गया. कई श्रमिक परिवार सहित एएलसी कार्यालय पहुंचे. इन्हें एएलसी राजेश मिश्रा ने उपकरण प्रदान किया. इस अवसर पर उन्होंने श्रमिकों से विद्युत उपकरणों की सुरक्षा करने एवं किफायत के साथ विद्युत उपभोग करने की सलाह दी. एएलसी ने बताया कि विद्युत उपकरणों को शासन से निर्धारित कंपनी द्वारा ही लाभार्थी के घर आकर लगाया जाएगा. इसलिए श्रमिक इन्हें खुद ही लगाने की कोशिश न करें. कंपनी अधिकारियों को सभी लाभार्थियों के घर उपकरण फिट करने के निर्देश दिए गए हैं. एएलसी ने बताया कि गुरूवार को 190 श्रमिक सोलर लाइट ले गए. जो श्रमिक रह गए हैं उन्हें चार अप्रैल को बुलाया गया है. एएलसी कार्यालय में इस दौरान श्रम प्रवर्तन अधिकारी एसएस अथैया और एसपी पांडेय मौजूद रहे.