- बीजेपी को रोकने के लिए लिया है ऐसा फैसला

- -बीजेपी ने कहा, सरवाइव करने के लिए लालू व नीतीश एकजुट

patna@inext.co.in

PATNA: एक बार फिर लालू और नीतीश कुमार एक हुए. राज्यसभा उपचुनाव को लेकर आरजेडी ने जेडीयू को समर्थन करने का फैसला आखिरकार ले लिया. लालू प्रसाद ने पूर्व सेंट्रल मिनिस्टर और आरजेडी के उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह के दमदार विरोध के बावजूद जेडीयू को समर्थन की घोषणा कर दी. लालू ने कहा कि वे व्हीप नहीं जारी करेंगे. यह भी कहा कि आरजेडी का कोई भी एमएलए क्रॉस वोटिंग नहीं करेगा. लालू प्रसाद ने कहा कि सांप्रदायिक शक्तियों को रोकने के लिए आरजेडी ने फैसला लिया है. विधानसभा में आरेजडी इसी तरह जेडीयू के साथ रहेगी क्या? इसके जवाब में लालू प्रसाद ने बुद्ध को याद करते हुए कहा, भविष्य, भूत को छोड़ो वर्तमान को समझो.

मैं लालू बोल रहा हूं

आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद ंिसंह राज्यसभा उपचुनाव में जेडीयू के साथ जाने के पक्ष में नहीं थे. उन्होंने कहा कि जेडीयू की वजह से ही बीजेपी इतनी आगे बढ़ी. नीतीश कुमार हमेशा ही आरजेडी में तोड़फोड़ करते रहे. हमारा मखौल उड़ाते रहे. एक तरफ रघुवंश प्रसाद सिंह के तेवर तल्ख रहे, वहीं दूसरी तरफ लालू प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेस में रघुवंश बाबू के विरोध की हवा निकाली. यहां तक कहां कि मैं लालू बोल रहा हू् और मेरे बोलने के बाद पार्टी के किसी उपाध्यक्ष के बोलने का कोई मतलब नहीं.

कान घुमाकर छू रही बीजेपी

लालू प्रसाद ने बीजेपी को निशाने पर लेते हुए कहा कि झारखंड में सीबीआई जांच चल रही है. अग्रवाल जेल में हैं. पैसा पर कोई दल लोग अपनी ईमान मत बेचना. कान घुमाकर छूने का आरोप उन्होंने बीजेपी पर लगाया. आरजेडी ने जेडीयू की समर्थन क्या किया बीजेपी की भौहें तन गईं. बीजेपी के वरिष्ठ नेता डॉ. सी. पी. ठाकुर ने कहा कि लालू प्रसाद और नीतीश कुमार दोनों सरवाइवल की पॉलिटिक्स कर रहे हैं, लेकिन ये समाज के लिए बिल्कुल ठीक नहीं है.