- एडेड स्कूलों की जमीनों पर कब्जा कर खड़े किए अवैध निर्माण

- कई बार जांच के आदेश के बावजूद अभी तक नहीं हुई कार्रवाई

LUCKNOW: राजधानी के एडेड स्कूल लालबाग ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज की जमीन पर बने अवैध निर्माण को गिराने के लिए प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा ने आदेश जारी कर दिया। दूसरी ओर राजधानी में अब भी कई ऐसे अवैध निर्माण है जो एडेड स्कूलों की जमीन पर अवैध कब्जा करके बनाए गए हैं। इनकी कीमती जमीन पर कब्जा करने के लिए भूमाफिया की ओर से कई तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। शिक्षा विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से भूमाफिया ने इन स्कूलों की जमीन पर गेस्ट हाउस से लेकर शॉपिंग कॉम्पलेक्स तक खोल दिया। अब एक बार फिर से प्रमुख सचिव की ओर से लालबाग इंटर कॉलेज प्रकरण में सक्रियता दिखाए जाने पर दूसरे स्कूलों के जमीन पर हुए अवैध निर्माण और कब्जों को खाली कराने की उम्मीद बढ़ गई है।

खेल के मैदान पर खड़ा मैरिज हाल

बाबूगंज के रामाधीन सिंह इंटर कॉलेज के खेल के मैदान में एक मैरिज हॉल बना दिया गया है। शिक्षा विभाग से लेकर मुख्यमंत्री तक इसकी शिकायत की गई। काई बार जांच के आदेश भी हुए। लेकिन अभी तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। वहीं बाजारखाला के यशोदा रस्तोगी ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज में छात्राओं के खेलने के मैदान को अब मैरिज हॉल में बदल दिया गया है। स्कूल की शिक्षिकाओं का कहना है कि कुछ समय पर मैरिज हॉल से होने वाली कमाई का एक अंश स्कूल के विकास में इस्तेमाल किया जाता था, पर अब वह भी बंद है। वहीं रामभरोसे मैकूलाल इंटर कॉलेज तेलीबाग के इस स्कूल की करोड़ों जमीन को बेचा जा रहा है। पूर्व डीआईओएस ने अपनी रिपोर्ट में इसकी पुष्टि की। लेकिन, अधिकारी का तबादला होने के बाद मामला दब गया। वहीं, स्वतंत्र ग‌र्ल्स कॉलेज की जमीन पर कॉम्प्लैक्स की निर्माण तेजी से हो रहा है। महीनों पहले इस स्कूल के प्रबंधन के खिलाफ भी एफआईआर कराकर कंट्रोलर बैठने की कार्रवाई के आदेश हुए। लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई।

इन स्कूलों की जमीन पर भी कब्जा

- दयानंद इंटर कॉलेज में प्राइवेट स्कूल का संचालन

- योगेश्वर ऋषिकुल इंटर कॉलेज की 13 बीघा जमीन बेच दी।

- महिला कॉलेज पर खोला दिया बिना मान्यता का महिला ब्राइट स्कूल।

- जगन्नाथ साहू इंटर कॉलेज की खेल के मैदान पर खोला डिग्री कॉलेज।

- डीएवी इंटर कॉलेज स्कूल की जमीन पर दुकानें बनाई।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner