पुलिस भर्ती में सामने आए 150 संदिग्ध मुन्नाभाई

2018-12-14T06:00:46Z

- इलाहाबाद जोन में बायोमेट्रिक्स जांच में हुआ खुलासा, सभी डाले गए वेटिंग में

- भर्ती बोर्ड अब एसटीएफ से कराएगा सीक्रेट इंक्वायरी, दोषी पाए जाने पर दर्ज होगी एफआईआर

LUCKNOW: पुलिस-पीएसी कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा-2018 में पुलिस व एसटीएफ की सतर्कता धरी की धरी रह गई। इलाहाबाद जोन में परीक्षा पास करने वाले 150 अभ्यर्थियों के शारीरिक दक्षता परीक्षण के दौरान बायोमेट्रिक्स मिलान न होने से हड़कंप मच गया है। माना जा रहा है कि इन सभी अभ्यर्थियों की परीक्षा किसी सॉल्वर ने दी है। हालांकि, अभी पुष्टि न होने की वजह से इन्हें वेटिंग में डाल दिया गया है। साथ ही इसकी जानकारी भर्ती बोर्ड को पहुंच चुकी है। बताया जा रहा है कि इतने बड़े पैमाने पर संदिग्ध मिलने से हुई फजीहत को देखते हुए भर्ती बोर्ड भी सकते में आ गया है। अधिकारी कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं हालांकि, अब इन सभी अभ्यर्थियों की एसटीएफ से सीक्रेट इंक्वायरी कराने की योजना है। दोषी मिलने पर इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी।

दोबारा हुआ था एग्जाम

पुलिस-पीएसी कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा-2018 के तहत 41,520 पदों के लिये बीते अगस्त महीने में लिखित परीक्षा आयोजित की गई थी। दो सेंटर्स की दूसरी पाली में गलत पर्चा बंट जाने की वजह से माना गया कि उक्त पर्चा लीक हो सकता है। जिसके बाद पुलिस भर्ती बोर्ड ने यह परीक्षा दोबारा कराने का निर्णय लिया। इस बार यह परीक्षा बीते नवंबर महीने आयोजित की गई। परीक्षा में सॉल्वर कोई गड़बड़ी न कर सकें, इसके लिये तमाम जिलों की पुलिस के साथ ही यूपी एसटीएफ को भी एक्टिव किया गया था।

नहीं हो सका बायोमेट्रिक्स का मिलान

पुलिस भर्ती बोर्ड ने परीक्षा में सॉल्वर न बैठ जाएं, इसके लिये तमाम सतर्कता के उपाय किये गए थे। परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों के बायोमेट्रिक्स (अंगूठे का निशान) लिया गया था। परीक्षा का परिणाम जारी होने के बाद भर्ती बोर्ड ने कटऑफ लिस्ट जारी करते हुए सफल अभ्यर्थियों को शारीरिक दक्षता परीक्षण के लिये बुलाया। पर, इलाहाबाद जोन में करीब 150 अभ्यर्थी शारीरिक परीक्षण के लिये ऐसे पहुंचे जिनका परीक्षा के दौरान लिया गया बायोमेट्रिक्स मेल नहीं खा रहा था। शुरुआत में इसे तकनीकी दिक्कत माना गया लेकिन, जब एक्सप‌र्ट्स की निगरानी में फिर से बायोमेट्रिक्स लिया गया तो भी हालात वही रहे। आखिरकार ऐसे अभ्यर्थियों को संदिग्ध मानते हुए उन्हें वेटिंग में डाल दिया गया। बताया गया कि इन सभी अभ्यर्थियों की जानकारी पुलिस भर्ती बोर्ड को मिली है। हालांकि, भर्ती बोर्ड भी अब फूंक-फूंक कर कदम रख रहा है और इन सभी अभ्यर्थियों की एसटीएफ से सीक्रेट इंक्वायरी की तैयारी की जा रही है।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.