बकाये सरचार्ज से बन सकते 21 नए सबस्टेशन लाखों घर होंगे रोशन

2019-01-11T06:00:55Z

- 90 करोड़ सरचार्ज बाकी

- 4.25 लाख उपभोक्ताओं पर एलएमवी 1 के

- 14.50 करोड़ सरचार्ज बाकी

- 65 हजार उपभोक्ताओं पर एलएमवी 2 के

- 5 करोड़ खर्च 10 एमवीए के ट्रांसफॉर्मर पर

- 10 हजार घर रोशन हो सकते एक सबस्टेशन से

- 21 सबस्टेशनों का निर्माण हो सकता है

- लेसा क्षेत्र में उपभोक्ताओं पर 100 करोड़ से अधिक सरचार्ज बाकी

- इतना सरचार्ज जमा होने पर मिल सकती है उपभोक्ताओं को भरपूर बिजली

abhishekmishra@inext.co.in

LUCKNOW: एक तरफ हर कोई भरपूर बिजली की आस करता है, लेकिन हकीकत यह है कि ज्यादातर उपभोक्ता समय से बिजली बिल तक जमा नहीं करते। जिसकी वजह से उनके ऊपर सरचार्ज का भार बढ़ता चला जाता है। लेसा के तहत अभी तक जो सरचार्ज बकाए की लिस्ट सामने आई है, उससे साफ है कि अगर सरचार्ज जमा हो जाए तो उस राशि से 21 नए सबस्टेशनों को स्थापित किया जा सकता है। इन सबस्टेशनों के स्थापित होने से करीब दो लाख से अधिक घर रोशन हो सकते हैं। महकमे की ओर से बकाया सरचार्ज जमा करने के लिए उपभोक्ताओं को लगातार जागरुक भी किया जा रहा है।

100 करोड़ से अधिक बाकी

आंकड़ों पर गौर फरमाए तो साफ है कि लेसा के तहत एलएमवी 1 व 2 के तहत आने वाले उपभोक्ताओं पर करीब 104.50 करोड़ सरचार्ज के रूप में बाकी है। इस राशि से खुद अंदाजा लगाया जा सकता है कि उपभोक्ता समय से बिजली बिल जमा नहीं कर रहे हैं, जिसकी वजह से उनके बिल में सरचार्ज जुड़कर आ रहा है।

करते हैं इंतजार

यह भी जानकारी सामने आई है कि ज्यादातर उपभोक्ता समय से बिल इसलिए भी जमा नहीं करते हैं क्योंकि उन्हें सरचार्ज माफी योजना का इंतजार रहता है। उपभोक्ताओं को अच्छी तरह से पता है कि इस योजना के तहत उन्हें राहत मिलना तय है। हालांकि इस बार ऐसे उपभोक्ताओं को भी चिन्हित किया जा रहा है, जो जानबूझकर समय से बिजली बिल जमा नहीं करते हैं।

बकाया राशि भी करोड़ों में

अब अगर बकाया बिजली बिल की बात की जाए तो उसका आंकड़ा भी कम नहीं है। एरियर के रूप में उपभोक्ताओं पर 356 करोड़ के रूप में बाकी है। इस आंकड़े से भी साफ है कि ज्यादातर उपभोक्ताओं की ओर से समय पर बिजली बिल जमा नहीं किया जा रहा है। इसका खामियाजा उन उपभोक्ताओं को भी उठाना पड़ता है, जो समय से बिल जमा करते हैं।

वर्जन

बिजली व्यवस्था बेहतर रहे और सभी को भरपूर बिजली मिले, इसके लिए सभी उपभोक्ताओं को समय से बिजली बिल जमा करना चाहिए। अगर बिल समय से जमा होगा, तो उपभोक्ताओं पर सरचार्ज नहीं लगेगा।

संजय गोयल, एमडी, मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लि।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.