चेन्नई में रोड एक्सीडेंट चतरा के 8 मजदूरों की मौत

2019-07-19T06:00:19Z

चतरा : ट्रांसमिशन लाइन में काम करने के लिए चेन्नई गए चतरा के आठ मजदूरों की मौत गुरुवार अहले सुबह सड़क हादसे में हो गई, जबकि तीन गंभीर रूप से जख्मी हो गए। गंभीर रूप से घायल सभी मजदूरों का उपचार चेन्नई के एक अस्पताल में हो रहा है। उनकी स्थिति बेहद गंभीर है। मृतक एवं जख्मी सभी मजदूर सदर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गांवों के रहने वाले हैं। पीकअप वैन और बस की सीधी टक्कर में यह हादसा हुआ। मृतकों में ऊंटा गांव के मुकेंद्र भुइयां(30), राजू भुइयां (27), अनोज रजक (25), कारू रजक (28), छोटू दास (25), मंगरदाहा गांव का अनूज भुइयां (25 ) व अशोक भुइयां (22)और टंडवा गांव निवासी चमन रजक (25) शामिल हैं। वहीं घायल लोगों में टंडवा का बबलू रजक व सुखदेव रजक तथा सेषांग मगरदाहा के श्यामदेव भुईयां शामिल हैं।

टावर एजेंसी में काम

जानकारी के अनुसार सभी मजदूर चेन्नई में विद्युतीकरण कार्य को ले एक टावर निर्माण एजेंसी में काम करते थे। सुबह के करीब तीन बजे साइट पर जाने के लिए पिकपन वैन पर सवार होकर निकले थे। करूमकुलाम जिला मुख्यालय से कुछ दूरी पर साइट थी। इसी क्रम में विपरीत दिशा से आ रही यात्री बस ने पिकअप वैन को सीधी टक्कर मार दी। इससे मौके पर ही आठों मजदूरों की मौत हो गई। घटना की जानकारी करीब 11:00 बजे पूर्वाह्न जिला परिषद की उपाध्यक्ष रूबी वर्मा के पति व भाजपा नेता उदय कुमार दांगी को मिली। उन्होंने इसकी जानकारी उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह को दी। उपायुक्त ने तुरंत सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी रंथु महतो और अंचल अधिकारी यामुन रविदास को पीडि़त परिवारों के गांव रवाना होने का निर्देश दिया। बीडीओ व सीओ ने पीडि़त परिवारों से मिलकर हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया।

कोट

घटना में आठ मजदूरों की मौत हुई है और तीन जख्मी हुए हैं। पोस्टमार्टम के बाद मृतकों का शव लाने के लिए हम वहां के अधिकारियों से संपर्क में है। प्रावधान के मुताबिक सभी मृतकों के आश्रितों को श्रम विभाग की ओर से एक-एक लाख रुपये का मुआवजा भी दिया जाएगा।

जितेंद्र कुमार सिंह, डीसी,चतरा


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.