जब 10वें नंबर के बल्लेबाज ने लगा दी सेंचुरी दुनिया में सिर्फ तीन खिलाड़ी कर पाए एेसा

2019-02-15T15:33:27Z

क्रिकेट जगत में आए दिन कर्इ रिकाॅर्ड बनते आैर टूटते हैं। एेसा ही एक अनोखा रिकाॅर्ड बना था आज से 21 साल पहले जब 10वें नंबर के बल्लेबाज ने मैदान पर आकर शतक जड़ दिया।

कानपुर। क्रिकेट में अक्सर शतक वो खिलाड़ी लगाते हैं जो अच्छे बल्लेबाज होते हैं। कभी-कभार आॅलराउंडर या गेंदबाज के बल्ले से भी सेंचुरी निकल जाती है मगर कोर्इ 10वें नंबर पर आकर शतक लगा दे, तो थोड़ी हैरानी होगी। एेसा ही हैरान करने वाली बैटिंग 1998 में साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी पैट सिमकाॅक्स ने पाकिस्तान के खिलाफ की थी। दरअसल पाकिस्तान बनाम साउथ अफ्रीका के बीच जोहंसबर्ग में 14 फरवरी को एक टेस्ट मैच शुरु हुआ। इस टेस्ट में अफ्रीका को टाॅस हारकर पहले बैटिंग करने का न्यौता मिला। टीम के शुरुआती बल्लेबाज कुछ खास कर नहीं पाए। 166 रन पर अफ्रीका के आठ विकेट गिर गए। सभी को लगा कि अफ्रीकी टीम सस्ते में सिमट जाएगी। मगर फिर क्रीज पर उतरे अफ्रीकी गेंदबाज पैट सिमकाॅक्स, पैट 10वें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए थे आैर उन्होंने मार्क बाउचर के साथ 9वें विकेट के लिए रिकाॅर्ड 195 रनों की साझेदारी की।

पैट ने खेली एेतिहासिक पारी
पैट ने इस पार्टनरशिप के दौरान बाउचर से तेज पारी खेली। पैट की बल्लेबाजी देख पाक गेंदबाज भी हैरान रह गए थे। साउथ अफ्रीका के इस टेलेंडर बल्लेबाज ने 108 रन की पारी खेली। इस दौरान उनके बल्ले से 17 चौके निकले। पैट की इस इनिंग के चलते अफ्रीका ने 364 रन बनाए। इसी के साथ पैट 10वें नंबर पर आकर शतक लगाने वाले दुनिया के तीसरे खिलाड़ी बन गए। पाकिस्तान ने पहली पारी में 329 रन बनाए आैर आखिरी में मैच ड्राॅ हो गया।
सिर्फ छह साल तक चला करियर
एक वक्त लग रहा था कि अफ्रीका के हाथों से ये मैच निकल जाएगा। मगर पैट की एेतिहासिक पारी ने अपनी टीम को हार से बचा लिया। अब 58 साल के हो चुके पैट ने अफ्रीका के लिए पहला इंटरनेशनल मैच 1993 में खेला था। हालांकि उनका करियर सिर्फ पांच साल तक चला। क्रिकइन्फो पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, पैट ने 20 टेस्ट खेलकर 741 रन आैर 37 विकेट अपने नाम किए हैं। वहीं वनडे की बात करें तो इस खिलाड़ी के नाम 80 मैचों में 694 रन आैर 72 विकेट दर्ज हैं।

पुलवामा : आतंकी हमले के बाद विराट कोहली सहित इन क्रिकेटर्स का फूटा गुस्सा, कहा- जल्द लो बदला

जब 5 घंटे में खत्म हो गया टेस्ट मैच, बन गया था इतिहास



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.