अब्दुल सामी की पेशी सेशन ट्रायल शुरू

2018-12-11T06:00:10Z

छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: आतंकी संगठन अलकायदा से जुड़े होने के संदेह में हरियाणा के मेवात से पकडे़ गए बिष्टुपुर धतकीडीह निवासी अब्दुल सामी की पेशी सोमवार देर शाम जमशेदपुर व्यवहार न्यायालय के अपर सत्र न्यायाधीश नौ की अदालत में हुई इसके साथ ही उसके खिलाफ दर्ज मामले में सेशन ट्रायल (सत्र विचारक) शुरु हो गई। अगली पेशी 10 जनवरी को होगी। पेशी के दौरान सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रही। उसे तिहाड़ जेल से दिल्ली पुलिस लेकर न्यायालय पहुंची थी। बिष्टुपुर थाना की पुलिस समेत अन्य अधिकारी तैनात रहे। पेशी के बाद अब्दुल सामी को बिष्टुपुर थाना ले जाया गया। इससे पहले उसकी पेशी आठ नवंबर को हुई थी। 25 अक्टूबर को अदालत में उसकी पेशी हुई थी।

20 जनवरी 2016 को दर्ज की गई थी प्राथमिकी

बिष्टुपुर थाना के तत्कालीन इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार ने आंतकी संगठन से जुड़े रहने, देशद्रोह, विस्फोटक अधिनियम ओर आ‌र्म्स एक्ट की धारा के तहत बिष्टुपुर थाने में 20 जनवरी 2016 को प्राथमिकी दर्ज की गई थी इसी मामले में अब्दुल रहमान कटकी, नसीम, अहमद मसूद को दिल्ली की विशेष शाखा की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पुलिस ने अहमद मसूद के धतकीडीह रज्जाक कालोनी आवास से आतंकी गतिविधि से जुड़े कई दस्तावेज और कम्प्यूटर भी बरामद किए थे। अहमद मसूद और नसीम दोनों घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद है। अब्दुल रहमान कटकी ओडिशा का निवासी है उसे 15 दिसंबर 15 को गिरफ्तार किया था। कटकी की निशानदेही पर अब्दुल सामी को हरियाणा से 18 जनवरी 2016 को पकड़ा गया था।

शहर से हुई थी गिरफ्तारी

दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा की सूचना पर जमशेदपुर पुलिस ने बिष्टुपुर थाना क्षेत्र धातकीडीह के रज्जाक कॉलोनी निवासी से अब्दुल मसूद और पुरुलिया रोड से मो। नसीम को गिरफ्तार किया था। नसीम के पास से पिस्तौल-कारतूस बरामद किए गए थे। इन सभी पर अलकायदा के लिए काम करने का आरोप है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.