पीएम मोदी की जीत देख TIME मैगजीन ने भी बदला रंग पहले कहा था देश तोड़ने वाला अब बताया देश जोड़ने वाला

2019-05-30T13:10:32Z

कुछ हफ्ते पहले TIME मैगजीन ने अपने इंटरनेशनल एडिशन के कवर पेज पर नरेंद्र मोदी की तस्वीर छापी थी और उसके साथ विवादित हेडलाइन लिखा था लेकिन मैगजीन का कहना है कि भारत में नरेंद्र मोदी जैसा प्रधानमंत्री दशकों से कोई नहीं बना।

न्यूयॉर्क (पीटीआई)। लोकसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी की प्रचंड जीत के बाद TIME मैगजीन ने भी अपना रंग बदल लिया है। कुछ हफ्ते पहले TIME मैगजीन ने अपने इंटरनेशनल एडिशन के कवर पेज पर नरेंद्र मोदी की तस्वीर छापी थी और उसके साथ विवादित हेडलाइन लिखा था लेकिन अब मैगजीन ने अपने एक आर्टिक्ल में लिखा है कि कोई भी प्रधानमंत्री दशकों में भारत को एकजुट नहीं कर पाया है। मैगजीन की हेडलाइन में लिखा गया है, 'मोदी हैज यूनाइटेड इंडिया लाइक नो प्राइम मिनिस्टर इन डिकेड्स (Modi Has United India Like No Prime Minister in Decades)। इसका मतलब यह है कि मोदी ने भारत को एकजुट किया है और दशकों में कोई भी प्रधानमंत्री ऐसा नहीं कर पाया है।'
आइडियाज सेक्शन में प्रकाशित हुआ लेख

आर्टिकल की यह हेडलाइन मनोज लडवा ने लिखा है, जो लंदन की मीडिया समूह 'इंडिया आईएनसी समूह' के फाउंडर और चीफ एग्जीक्यूटिव हैं। मनोज ने लिखा, 'पहले कार्यकाल और इस लोकसभा चुनाव दोनों में मोदी की नीतियों की जबरदस्त आलोचनाएं हुईं लेकिन इसके बावजूद, किसी भी प्रधानमंत्री ने भारतीय मतदाताओं को पांच दशकों में एकजुट नहीं किया है। मोदी ने बड़े पैमाने पर जीत दर्ज की क्योंकि वह भारत की सबसे बड़ी गलत लाइन : क्लास डिवाइड को पार करने में कामयाब रहे। यह लेख TIME आइडियाज सेक्शन में प्रकाशित हुआ है, जिसमें दुनिया की प्रमुख बातों, समाचार, समाज और संस्कृति पर टिप्पणी होती हैं।
Lok sabha Election Result 2019: भाजपा का सबके वोट पर डाका, पिछले लोकसभा चुनाव के मुकाबले सात फीसद ज्यादा मिले वोट
नीतियों के चलते फिर से सत्ता में हुई वापसी
मनोज ने अपने लेख में लिखा है, 'पीएम मोदी देश के गरीबों के लिए बनाई गईं नीतियों के चलते फिर से देश की सत्ता पर आने में सफल हुए हैं। उनकी नीतियों की वजह से न सिर्फ हिंदू, बल्कि अल्पसंख्यक समुदाय के लोग भी काफी हद तक गरीबी से बाहर निकलने में कामयाब हुए हैं। बता दें कि इस महीने की शुरुआत में TIME मैगजीन के कवर पेज पर लिखा जाने वाला विवादित हेडलाइन 'इंडियाज डिवाइडर इन चीफ' आतिश तासीर ने लिखा था।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.