मांडा में बिजली के लिए संग्राम

2015-07-28T07:00:28Z

पुलिस ने व्यापारी को पीटा तो हो गया बवाल

जाम हटाने पुलिस को ग्रामीणों ने दौड़ाकर पीटा

पथराव में एसओ समेत चार पुलिसकर्मी घायल

MANDA(JNN): ख्ब् घंटे में मुश्किल से आठ-दस घंटे ही लाइट मिलने से नाराज भारतगंज बाजार के लोग सोमवार को सड़क पर उतर आए और बस स्टॉप के पास जाम लगा दिया। जाम खुलवाने पहुंची पुलिस ने पब्लिक को समझाने के बजाय एक व्यापारी को पीट दिया। जिसके बाद ऐसा व्यापारियों का गुस्सा ऐसा भड़का कि पथराव शुरू हो गया। पथराव में थानाध्यक्ष मांडा व चौकी इंचार्ज भारतगंज को चोट लगी तो पुलिस ने भी जमकर लाठी चलाई। जिसके बाद पुलिस और पब्लिक के बीच भीषण संग्राम हो गया।

बिजली कटौती का विरोध कर रहे थे लोग

विद्युत आपूर्ति को लेकर भारतगंज के आक्रोशित बाजार वासी सुबह आठ बजे ही भारतगंज त्रिमोहानी पर इकट्ठा हो गए। लोगों ने भारतगंज वाया प्रतापपुर मार्ग स्थित बस स्टैंड पर चक्काजाम लगा दिय। जाम लगने की स्थिति में कुछ वाहन चालक इधर उधर के रास्तों से बाजार के बाहर होते हुये निकलने लगे। ये देखते ही बाजार के लोगों ने मार्ग के बंगलिया पुल पर भी जाम लगा दिया।

युवक को पीटा तो भड़का गुस्सा

एसडीएम मेजा आशीष कुमार मिश्र की देखरेख में अभी बाजार वासियों से बात ही हो रही थी पुलिस वालों ने चांद मुहम्मद नामक युवक की पिटाई कर दी। जिसके बाद आक्रोशित बाजार वासियों ने पथराव शुरू किया। थानाध्यक्ष मांडा, चौकी इंचार्ज भारतगंज सहित सिपाही सुरेश चौधरी एवं बेचू सिंह पत्थरबाजी में घायल हो गये। थानाध्यक्ष मांडा के सिर पर दो पत्थर गिरे जिसके बाद वह अचेत होकर गिर गये। पत्थरबाजी के दौरान अफरा तफरी मच गई और पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने भाग कर जान बचाई जबकि बाजार वासी भी मौके से फरार हो गये। थोड़ी ही देर में एसपी क्राइम रमा कांत प्रसाद, एसपी हाईटेक प्रदीप दुबे, सीओ बारा सीएस तिवारी सहित जिले की भारी फोर्स मौके पर पहुंच गई और स्थिति को काबू में किया। घटना के बाद बाजार में क‌र्फ्यू जैसा माहौल रहा, और चारों तरफ सन्नाटा पसरा रहा।

दुकानें बंद

घटना के बाद भारतगंज के सभी व्यापारियों ने अपनी अपनी दुकानें बंद कर दी। एसडीएम मेजा आशीष कुमार मिश्र ने पुलिस फोर्स के साथ जाकर दुकानें खुलवाने का प्रयास किया लेकिन व्यापारियों ने साफ इंकार कर दिया। व्यापारियों का कहना है कि व्यापारी बदहाल विद्युत व्यवस्था को लेकर शांतिमय ढंग से जाम लगा कर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। लेकिन चौकी इंचार्ज एवं थानाध्यक्ष की जोर जबरदस्ती के कारण बवाल हुआ। खास करके थानाध्यक्ष मांडा के सामने व्यापारी चांद मुहम्मद की पिटाई के बाद तो व्यापारी आक्रोशित हो उठे और उन्होंने पत्थरबाजी शुरू कर दिया। ऐसे में अगर व्यापारियों के खिलाफ बेवजह का मुकदमा दर्ज किया जाता है तो अनिश्चित काल के लिये दुकानें बंद रखी जाएगी।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.