सलमान संग मूवी क्लैश पर अक्षय बोले 'राधे' और 'लक्ष्मी बाॅम्ब' साथ आ सकती हैं ईद पर

2019-12-08T14:43:13Z

अगले साल ईद पर सलमान खान की फिल्म राधेयोर मोस्ट वांटेड भाई और अक्षय कुमार की लक्ष्मी बॉम्ब बॉक्स ऑफिस पर आमनेसामने होंगी। इस क्लैश को लेकर काफी कुछ कहा जा रहा है। दोनों सुपरस्टार्स के फैंस के साथ ट्रेड की भी इस क्लैश पर नजरें टिकी हैं। अब तक दोनों एक्टर्स ने इस टक्कर को लेकर कोई बयान नहीं दिया था मगर अब अक्षय ने इस पर अपनी बात रखी है।

कानपुर (फीचर डेस्क)। हाल ही में अक्षय से एक इंटरव्यू के दौरान इस क्लैश को लेकर सवाल किया गया कि अगले साल वो ईद पर सलमान के सामने होंगे तो अक्षय ने इसका जवाब देते हुए कहा, पहले मैं आया हूं लेकिन कोई भी आ सकता है, इसमें कुछ गलत नहीं है। ईद का दिन है, दो फिल्में साथ आ सकती हैं, क्यों नहीं आ सकतीं साथ में? बता दें कि दोनों सुपरस्टार्स के फैंस के साथ ट्रेड की भी इस क्लैश पर नजरें टिकी हैं।
सूर्यवंशी होने वाली थी ईद पर रिलीज

अमूमन सलमान खान की ही फिल्में रिलीज़ होती रही हैं। और उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर बेहतरीन प्रदर्शन भी किया है। इस साल सलमान की भारत भी ईद पर ही आई थी, जिसने 200 करोड़ से ज्यादा कलेक्शन किया था। 2020 में ईद पर पहले सलमान की इंशाअल्लाह रिलीज होने वाली थी, जिसे संजय लीला भंसाली डायरेक्ट कर रहे थे, जबकि अक्षय अपनी फिल्म सूर्यवंशी को ईद पर लाने का एलान कर चुके थे। इस बीच इस क्लैश से बचने के लिए रोहित ने अपनी फिल्म सूर्यवंशी की रिलीज डेट खिसका कर मार्च में कर दी।

2020 की ईद होगी धमाकेदार

उधर, सलमान की इंशाअल्लाह बंद हो गई। इंशाअल्लाह के हटने के बाद अक्षय कुमार की फिल्म लक्ष्मी बॉम्ब को ईद पर रिलीज करने का एलान कर दिया गया। लेकिन सलमान ने ईद पर अपना दावा नहींं छोड़ा और कुछ वक्त बाद राधे को ईद पर लाने की अनाउंसमेंट कर दी, जिसके बाद यह तय हो गया कि 2020 की ईद धमाकेदार होगी, क्योंकि अक्षय और सलमान जैसे सुपरस्टार एक-दूसरे के सामने होंगे।
feature@inext.co.in
जो विश कृति 'हाउसफुल 4' में पूरी नहीं कर पाईं, वो अक्षय संग 'बच्चन पांडे' में पूरी करेंगी


Posted By: Vandana Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.