केरल से आगरा आ सकता है निपाह

2018-05-31T18:24:19Z

केरल से आने वाले सामानों में वायरस का खतरा
आगरा। निपाह वायरस पूरा देश दहशत में है। आगराइट्स में वायरस के अटैक का खतरा बरकरार बना हुआ है। इस बारे में स्वास्थ्य विभाग द्वारा भी निपाह वायरस को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है, लेकिन रेलवे स्टेशनों और एयरपोर्ट पर निपाह वायरस को लेकर कोई अलर्ट जारी नहीं किया गया है। आपको बता दें कि केरल से आगरा के पांच ट्रेनें आती हैं।

स्टेशन पर कोई टीम तैयार नहीं
पूरे देश में निपाह वायरस को लेकर खलबली मची हुई है, ऐसे में वायरस की गंभीरता को लेकर स्वास्थ्य विभाग पहले से अलर्ट जारी कर चुका है। इसके लिए टीमें भी गठित कर दी गई हैं, लेकिन आगरा कैंट रेलवे स्टेशन पर कोई डॉक्टरों की टीम तैनात नहीं की जा सकी है। इसके अलावा डॉक्टरों की टीम सार्वजनिक स्थानों जैसे बस स्टॉप आदि स्थानों पर भी तैनाती नहीं है।

आगरा आती हैं पांच ट्रेनें
केरला से आगरा के लिए पांच ट्रेनें आती हैं। इसमें केरला एक्सप्रेस आगरा कैंट, हिमसागर एक्सप्रेस आगरा कैंट, स्वर्ण जयन्ती एक्सप्रेस राजा की मंडी स्टेशन, मिलेनियम एक्सप्रेस राजा की मंडी स्टेशन और मंगला लक्षदीप एक्सप्रेस, आगरा कैंट स्टेशन पर आती है। ऐसे में सवाल ये है कि इन ट्रेनों के माध्यम से निपाह वायरस आगरा आ सकता है। इसके लिए कोई रेलवे स्टेशन पर कोई टीम तैयार नहीं है।

लोगों का होता है आना-जाना
आगरा समेत पूरे मंडल के लोगों का केरला आना-जाना लगा रहता है। कुछ ट्रेनें आगरा से सीधी केरला के लिए जाती हैं। कारोबार के सिलसिलें में लोगों का केरला आना-जाना बना रहता है। इसके चलते निपाह वायरस फैलने का पूरा खतरा बना हुआ है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग कि साथ रेलवे को भी सतर्क रहना चाहिए।

सीजनेबल फल से बनी दूरी
निपाह के चलते लोगों की आम और खजूर से दूरी बन गई है। आपको बता दें कि रोजा का सीजन चल रहा है। ऐसे में खजूर की सबसे ज्यादा डिमांड रहती है। लेकिन निपाह वायरस के चलते इसकी बिक्री प्रभावित हो गई है। जो स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी किया है, उसमें आम और खजूर के साथ अन्य फलों को लेकर भी सावधानी बरतने को कहा गया है। रोजेदार के सामने ये समस्या बनी हुई है कि खजूर रमजान के महीने में काफी पवित्र होता है। ऐसे में वे खजूर भी नहीं खा पा रहे हैं।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.