एशिया की मोस्ट ब्यूटीफुल विमेन बनीं आलिया कैटरीना व प्रियंका रह गईं पीछे

2019-12-15T12:32:06Z

आलिया भट्ट के लिए यह साल काफी अच्छा रहा। आलिया ने इस साल अपनी एक्टिंग की दम पर कई अवॉर्ड तो जीते ही साथ ही 2020 ऑस्कर के लिए उनकी फिल्म गली ब्वॉय नॉमिनेट भी हुई है और जातेजाते यह साल उनको एक और खिताब दे गया।

कानपुर (फीचर डेस्क)। लंदन की एक मैगजीन ने ऑनलाइन सर्वे में वोटिंग के जरिए इस साल एशिया की मोस्ट ब्यूटीफुल विमेन की लिस्ट जारी की है, जिसके मुताबिक एक्ट्रेस आलिया भट्ट को इस साल की सबसे खूबसूरत महिला का खिताब मिला है तो वहीं, दीपिका पादुकोण इस दशक की सबसे ब्यूटीफुल विमेन चुनी गई हैं।

दिल से अच्छा होना चाहिए
इस बारे में अलिया ने कहा, मेरा मानना रहा है कि सच्ची सुंदरता जो दिखती है उससे कहीं ज्यादा होती है। हम बूढ़े हो जाएंगे। हम कैसे दिखते हैं यह वक्त के साथ बदल जाएगा, लेकिन आपका दिल से अच्छा होना आपको हमेशा खूबसूरत बनाए रखेगा। हम सबको इस पर ध्यान देना चाहिए।
इसे मानती हैं बेहतर समय
वहीं इसके बारे में बात करते हुए दीपिका पादुकोण ने कहा, मुझे यह विडंबना लगती है कि यह ऐसे समय आया हैं, जब छपाक जैसी फिल्म रिलीज होने वाली है। इससे बेहतर समय नहीं हैं कि हम समाज के तौर पर खूबसूरती और सेक्स अपील को दोबारा डिफाइन कर सकें।
ये हैं टॉप 10 ब्यूटीफुल विमेन
एशिया की खूबसूरत महिलाओं की लिस्ट में आलिया टॉप पर हैं। वहीं दीपिका पादुकोण को दूसरा स्थान मिला है। दीपिका पादुकोण पिछले साल इस टॉप पर थीं। बिग बॉस की एक्स कंटेस्टेंट हिना खान तीसरे नंबर पर रही हैं। वहीं चौथे नंबर पर हैं, पाकिस्तानी एक्ट्रेस माहिरा खान। इसके साथ रही वह सबसे खूबसूरत पाकिस्तानी महिला बन गई हैं। वहीं इस लिस्ट में सुरभि चंदना (5), कैटरीना कैफ (6), शिवांगी जोशी (7), निया शर्मा (8), मेहविश हयात (9) और प्रियंका चोपड़ा (10) भी शामिल हैं। यानी एशियाई महिलाओं की सूची में 8 भारतीय और दो पाकिस्तानी एक्ट्रेस हैं।
features@inext.co.in
Year Ender 2019: IMDB 2019 की टॉप 10 फिल्‍म स्‍टार्स की लिस्‍ट में प्रियंका चोपड़ा फर्स्‍ट तो सलमान छठे नंबर पर


Posted By: Vandana Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.