पश्चिमी तट पर हलचल होने से प्रायद्वीपीय भारत में आंधी-तूफान के साथ भारी बारिश के आसार हैं। वहीं उत्तर प्रदेश बिहार पश्चिम बंगाल सहित पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत में भी बारिश हो सकती है।


कानपुर (इंटरनेट डेस्क)। महाराष्ट्र से केरल तट पर हलचल रहने की वजह से प्रायद्वीपीय भारत का मौसम अगले चार से पांच दिनों तक खराब रहेगा। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने अपने पूर्वानुमानों में बताया है कि प्रायद्वीपीय भारत में अगले चार से पांच दिनों के बीच आंधी-तूफान के साथ भारी बारिश के आसार बन रहे हैं। कर्नाटक में 11 से 13 सितंबर और केरल में 11 सितंबर को भारी बारिश हो सकती है।बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर से आंध्र में हलचल


मानसून अपने पश्चिमी छोर पर सामान्य स्थिति से उत्तर की ओर जबकि पूर्वी छोर पर यह सामान्य स्थिति पर बना हुआ है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर की वजह से यह दक्षिण की ओर शिफ्ट हो सकता है। तटीय आंध्र प्रदेश में 13 सितंबर को हलचल हो सकती है। इससे पश्चिम बंगाल, सिक्किम और ओडिशा में अगले चार दिनों तक आंधी-तूफान के साथ भारी बारिश का अंदेशा है।पूर्वोत्तर के राज्यों में तूफान के साथ भारी बारिश

मौसम विभाग के पूर्वानुमानों के मुताबिक, ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, तेलंगाना, महाराष्ट्र और गुजरात में 12 सितंबर को भारी बारिश हो सकती है। कुछ इलाकों में बारिश के साथ तूफान के भी आसार हैं। पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल में गंगा से लगे इलाके, असम, मेघालय, महाराष्ट्र, ओडिशा, कर्नाटक और मध्य प्रदेश में अगले 12 घंटों के दौरान तूफान और गरज-चमक के आसार नजर आ रहे हैं। इस दौरान यहां कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी हो सकती है।

Posted By: Satyendra Kumar Singh