मुझे या भूषण को मारकर समस्या का समाधान होता है तो Tell Me सीएम

2014-01-08T16:40:01Z

केजरीवाल ने हमलावरों को दिया मीडिया के सामने आकर अपनी बात रखने का ऑफर

मुद्दा कभी खत्म नहीं होगा
आम आदमी पार्टी के कार्यालय पर हमला करने के दोषी पिंकी चौधरी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. साहिबाबाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है. गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के नेता प्रशांत भूषण द्वारा कश्मीर में सेना तैनाती को लेकर जनमत संग्रह संबंधी बयान से नाराज हिंदू रक्षक दल के सदस्यों द्वारा बुधवार को कौशांबी स्थित पार्टी कार्यालय में तोड़फोड़ की गई थी. जिस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह हमला सिर्फ इसलिए किया गया, ताकि मुद्दा कभी खत्म न हो सके.

आमने- सामने कर लो बात
केजरीवाल ने कहा कि जिन्होंने भी कार्यालय में तोड़फोड़ की है, मैं उन्हें बातचीत के लिए बुलाना चाहता हूं. पता तो चले कि उनमें से कौन कश्मीर को सच में दिल से चाहते हैं. हमलावर आएं और मीडिया के सामने उनसे बातचीत करें. अगर प्रशांत भूषण या मेरा कत्ल करने से समस्या का समाधान हो जाए, तो वे मुझे बता दें कि कब मारना चाहते हैं. मुझे सुरक्षा की कोई जरूरत नहीं. सुरक्षा की आड़ में इन बातों से बचा नहीं जा सकता.

बयान

प्रशांत भूषण द्वारा कश्मीर में सेना तैनाती को लेकर जनमत संग्रह संबंधी बयान से नाराज हिंदू रक्षक दल के सदस्यों ने बुधवार को कौशांबी स्थित पार्टी कार्यालय में तोड़फोड़ और नारेबाजी की. जानकारी के अनुसार, हिंदू रक्षा दल के लगभग दो दर्जन सदस्य लाठी-डंडे से लैस होकर आप कार्यालय परिसर में घुस आए और तोड़फोड़ शुरू कर दी. वे प्रशांत भूषण और पार्टी के खिलाफ नारे लगा रहे थे. दल के संयोजक भूपेंद्र उर्फ पिंकी चौधरी ने संवाददाता को बताया कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. आप नेताओं की अनर्गल बयानबाजी बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने आप नेता कुमार विश्वास को भी हिंदू देवताओं के खिलाफ की गई टिप्पणी पर चेतावनी दी.

घटना

आप के नेता दिलीप पांडे ने बताया कि हंगामे के दौरान कार्यालय में मौजूद कार्यकर्ताओं ने जान बचाने के लिए अपने आप को दरवाजे के अंदर बंद कर लिया. उन्होंने कहा कि हमलावर हिंसा पर उतारू थे. वे ईट-पत्थर फेंक रहे थे. कार्यालय में लगे तमाम पोस्टर और बैनरों को फाड़ दिया गया. तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी गई जिसके बाद वहां भारी संख्या में पुलिस को तैनात कर दिया गया. इस बीच, कुमार विश्वास ने अपने बयान में हमले की आलोचना करते हुए कहा कि यह भाजपाई गुंडागर्दी है. उधर, प्रशांत भूषण के बयान को लेकर जम्मू में शरद पवार की पार्टी एनसीपी के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया. उन्होंने भूषण पर कानूनी कार्रवाई करते हुए गिरफ्तारी की मांग की है.
Hindi news from National news desk, inextlive



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.