असिस्टेंट प्रोफेसर की आंसर की वायरल

2019-01-15T06:00:30Z

सुबह 08:21 बजे वाट्सएप पर आई, उशिसे आयोग अध्यक्ष बोले जांच होगी

सामान्य अध्ययन और एजुकेशन विषय को लेकर लगे गंभीर आरोप

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: पुनर्गठन के बाद उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग की पहली परीक्षा ही सवालों के घेरे में आ गई है। विज्ञापन संख्या 47 के तीनों चरण की परीक्षा में गहरी पारदर्शिता और शुचिता का दावा करते नहीं थक रहे उशिसे आयोग की कलई खुलती नजर आ रही है। बीते 12 जनवरी को हुई असिस्टेंट प्रोफेसर की परीक्षा का पर्चा आउट होने की बात सामने आई है। इससे आयोग से लेकर परीक्षार्थियों के बीच हड़कम्प की स्थिति है। हालांकि आयोग के अध्यक्ष प्रो। ईश्वर शरण विश्वकर्मा ने दैनिक जागरण आई नेक्स्ट से साफ कहा है कि वे जांच कराकर उचित निर्णय लेंगे। उन्होंने कहा कि इस परीक्षा में यदि कुछ गलत हुआ है तो आयोग इसे गंभीरता से लेगा और कार्रवाई करेगा।

रानी रेवती देवी में दी परीक्षा

परीक्षा में शामिल परीक्षार्थियों ने आयोग में ज्ञापन देकर दावा किया है कि सभी विषयों के लिए हुई सामान्य अध्ययन की परीक्षा में पूछे गए 30 सवालों की आंसर की बनाकर एक अभ्यर्थी ने 12 जनवरी की सुबह 08:21 बजे ही वाट्सएप पर वायरल कर दिया था। इसमें 01 से लेकर 30 सवालों के आंसर सीरियल से लिखे गए हैं। ठीक ऐसा ही आरोप एजुकेशन विषय की परीक्षा को लेकर भी हैं। ज्ञापन देने वाले अभ्यर्थियों का दावा है कि जिस अभ्यर्थी ने पेपर की आंसर की बनाकर वायरल की। उसने रानी रेवती देवी इंटर कॉलेज, एएन के मुखर्जी रोड प्रयागराज में परीक्षा दी है। आंसर की वायरल करने वाले परीक्षार्थी का एडमिट कार्ड भी अन्य अभ्यर्थियों के हाथ लग गया है। इसमें उसके घर का पता गांव धरिकापुर, पोस्ट प्रेम का पूरा, जिला जौनपुर बताया गया है। अभ्यर्थियों ने पेपर लीक प्रकरण के जांच की मांग को लेकर बुधवार को आयोग कार्यालय पर एकत्रित होने का निर्णय लिया है।

--------

06 विषयों के लिए हुई थी परीक्षा

- तीसरे चरण में असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती परीक्षा भूगोल, शिक्षाशास्त्र, समाजशास्त्र, गृहविज्ञान, वाणिज्य एवं गणित विषय के लिए करवाई गई।

- इसमें 70 सवाल पूछे गए थे।

- परीक्षा का आयोजन प्रयागराज के 34 परीक्षा केन्द्रों पर किया गया।

- परीक्षार्थियों की संख्या 17,196 थी।

- 9989 अभ्यर्थी ही परीक्षा में शामिल हुए।

- परीक्षा का समय सुबह 11 बजे से 01 बजे के बीच था।

------

स्टेट के कॉलेजेस में मिलेगी नौकरी

- भर्ती प्रदेश के अशासकीय डिग्री कॉलेजेस के लिए निकाली गई है।

- इसके तीनों चरण पूरे कर लिए गए हैं।

- विज्ञापन संख्या 47 के तहत प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त डिग्री कॉलेजों में 35 विषयों के असिस्टेंट प्रोफेसर के रिक्त1150 पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया 2016 में शुरू की गई थी।

- जुलाई 2016 में 50 हजार परीक्षार्थियों ने ऑनलाइन आवेदन किए थे।

- लिखित परीक्षा के बाद रिजल्ट और फिर साक्षात्कार के बाद अभ्यर्थियों को नियुक्ति प्रदान की जाएगी।

- पहले चरण की परीक्षा 15 दिसम्बर और दूसरे चरण की परीक्षा 05 जनवरी को कराई गई थी।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.