आजम खां की भैंसों ने फिर कराई यूपी पुलिस की किरकिरी

2014-08-22T16:55:48Z

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खां की देशव्‍यापी लोकप्रियता के कारणों पर अगर नजर डाली जाए तो इसमें उनकी भैंसों का योगदान नजरअंदाज नही किया जा सकता है. दरअसल आजम खां फिर से चर्चा में हैं और इस बार यूपी पुलिस ने उनकी भैंसों की जमकर खुशामद की ताकि वे फिर से नाराज होकर कहीं गुम ना जाएं.

आजम खां की भैंसे और यूपी पुलिस
यूपी पुलिस और आजम खां की भैसों के बीच एक रिश्ता सा बन गया है. इससे पहले एक बार आजम खां की भैसें गुम हो गईं थी जिन्हें ढ़ूढने में प्रशासन को खासी मशक्कत करनी पड़ी थी. दरअसल इस बार श्रम विभाग के चेयरमैन ने आजम खां को पंजाब से पांच भैसें गिफ्ट की हैं. यह भैंसें पंजाब से सहारनपुर आ रहीं थी और उन्हें सहारनपुर में एक रात रुककर मुजफ्फर पुर पहुंचना था. इसलिए पुलिस को जैसे ही पता चला कि आजम खां की भैंसें उनके क्षेत्र से गुजर रहीं हैं वैसे ही पुलिस ने उनकी सेवा खुशामद शुरू कर दी.
लाल बत्ती के सुरक्षा घेरे में भैंसें
पंजाब से सहारनपुर पहुंचने तक भैंसों को भले ही कितनी भी दिक्कत हुई हो लेकिन सहारनपुर में पुलिस ने भैंसों को लाल बत्ती के सुरक्षा घेरे में रखा और मुजफ्फरपुर तक ले गई. इसके साथ ही सहारनपुर में चेयरमैन साहिब के बेटे ने पूरी रात जगकर भैंसों की देखरेख भी की.
कोई गोबर उठा रहा कोई चारा खिला रहा
इन भैंसो की सेवा के दौरान जो नजारा सबसे ज्यादा कॉमन था वह यह कि कोई पुलिसवाला गोबर उठा रहा था तो कोई पुलिसवाला भैंसों को चारा खिला रहा था. गौरतलब है कि भैंसों को मच्छरों से बचाने के लिए पुरे इंतजाम किए गए थे और सुबह होते ही भैंसों को लाल बत्ती में मुजफ्फरनगर की सीमा तक पहुंचाया गया.
सहारनपुर एसएसपी ने किया खंडन
इस मामले में सहारनपुर एसएसपी ने इस तरह की खबरों का पूरी तरह से खंडन किया है. एसएसपी ने कहा है कि पुलिस द्वारा भैंसों की आवभगत और
मुजफ्फरनगर की सीमा तक पहुंचाने की बातों में दम नही है.

Hindi News from India News Desk


Posted By: Prabha Punj Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.