धोनी के रिटायरमेंट को लेकर गांगुली ने कही बड़ी बात ले सकते हैं बड़ा फैसला

2019-10-17T08:43:33Z

बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बनने जा रहे पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने एमएस धोनी के रिटायरमेंट को लेकर बड़ी बात कही है। गांगुली का कहना है वह माही के भविष्य पर टीम मैनेजमेंट से बात करने वाले हैं।

कोलकाता (पीटीआई)। 23 अक्टूबर को बीसीसीआई के नए अध्यक्ष की कुर्सी पर आसीन होने जा रहे पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि वह महेंद्र सिंह धोनी पर कुछ भी बोलने से पहले 24 तारीख को राष्ट्रीय चयनकर्ताओं से बात करेंगे और तभी इस मामले पर अपनी राय देंगे।
पिछले क्रिकेट विश्व कप के सेमीफाइनल में भारत के हारकर बाहर होने के बाद से 38 वषर्षीय धोनी भारतीय टीम से बाहर हैं और अब बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली घरेलू टी--20 सीरीज में भी उनके खेलने की उम्मीद नहीं है। बांग्लादेश के खिलाफ तीन टी--20 मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम की घोषषणा 24 अक्टूबर को होगी। अब तक धोनी ने संन्यास की घोषषणा नहीं की है। ऐसे में अब चयनकर्ताओं के पास अगले साल होने वाले टी--20 विश्व कप को लेकर विचार करने का समय है।

धोनी से पूछेंगे कि वे क्या चाहते हैं
ईडन गार्डस में पहुंचे गांगुली ने कहा कि जब 24 अक्टूबर को चयनकर्ताओं से मुलाकात करूंगा तो इस पर चर्चा करूंगा। हम जानने की कोशिश करेंगे कि चयनकर्ता क्या सोचते हैं और इसके बाद मैं अपनी राय दूंगा। साथ ही गांगुली ने कहा कि वह जब धोनी से मिलेंगे तो उनसे भी इस मसले पर बात करेंगे कि वह क्या चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हमें देखना होगा कि धोनी क्या चाहते हैं। मैं उनसे बात भी करूंगा कि वह क्या करना चाहते हैं और वह क्या नहीं करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि चूंकि मैं बोर्ड से नहीं जुड़ा हुआ था, इसलिए शायद यह मामला मेरे सामने स्पष्ट नहीं था। अब मैं यह पता लगाने की स्थिति में रहूंगा और फिर आगे का रास्ता तय कर सकूंगा।
टीम इंडिया के कप्तान से होगी बात
गांगुली ने स्पष्ट किया कि वह 23 अक्टूबर को एजीएम में कार्यभार संभालने के बाद चयनकर्ताओं और भारतीय टीम के कप्तान से बात करेंगे। पहले चयनकर्ताओं की बैठक 21 अक्टूबर को निर्धारित की गई थी, लेकिन अब यह 24 अक्टूबर को होगी जहां देवधर ट्रॉफी के लिए भारत--ए, बी और सी टीमों का भी चयन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहले मैं इस मामले में कहीं नहीं था। मेरी पहली चयन समिति की बैठक 24 अक्टूबर को होगी इसलिए मैं चयनकर्ताओं से पूछूंगा और कप्तान के साथ बात करूंगा। हालांकि नए संविधान के अनुसार इस बैठक में कोच रवि शास्त्री नहीं होंगे।
रवि शास्त्री का चयन खतरे में नहीं
यह पूछे जाने पर कि क्या कपिल देव के नेतृत्व वाले पैनल की वैधता के संबंध में सवाल उठने के बाद से रवि शास्त्री की नियुक्ति चर्चा के अधीन होगी तो गांगुली ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि इससे रवि शास्त्री का चयन खतरे में होगा। तब भी हमने कोच का चयन किया था जब हितों के टकराव का मामला था। अध्यक्ष चयन समिति की बैठक का हिस्सा नहीं होगा क्योंकि सचिव जय शाह नामित संयोजक हैं। जाहिर है कि एक बार टीम के चयन के बाद इसे अध्यक्ष की अनिवार्य मंजूरी के बाद ही सार्वजनिक किया जा सकता है। गांगुली ने यह भी कहा कि देवांग गांधी और जतिन परांजपे चयनकर्ताओं के तौर अपना काम जारी रखने के लिए पात्र होंगे। हालांकि इसमें कुछ बदलाव होंगे। हमें देखना होगा कि उनके कार्यकाल में कितने दिन बाकी हैं।
आईपीएल से दे चुके हैं इस्तीफा
गांगुली ने कहा कि उन्होंने पहले ही आइपीएल की टीम दिल्ली कैपिटल्स से इस्तीफा दे दिया है लेकिन वह एमसीसी बोर्ड के सदस्य के रूप में बने रहेंगे। आईसीसी में बीसीसीआई के प्रतिनिधित्व के बारे में गांगुली ने कहा कि इसका निर्णय सर्वोच्च परिषषद द्वारा किया जाएगा।गांगुली ने बताया कि शिखर धवन, रिषभ पंत, अजिंक्य रहाणे, जसप्रीत बुमराह, जैक जहीर खान, वीरू वीरेंद्र सहवाग, भज्जी हरभजन सिंह ने उन्हें बधाई दी है। साथ ही अर्जुन रणतुंगा, सनथ जयसूर्या और नासिर हुसैन ने भी उन्हें बधाई दी। हालांकि जब उनसे पूछा गया कि क्या राहुल जौहरी अगली बैठक में भाग लेंगे, तो उन्होंने इस पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया।


Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.