ट्रकों से सड़क धंसी जनता फंसी

2018-11-30T06:01:06Z

-रथयात्रा-महमूरगंज रोड पर देर रात लोडेड ट्रकों के गुजारे जाने से दोनों ओर धंसी सड़क में फंसे गिट्टी लदे ट्रक

-छह घंटे तक लगे भीषण जाम में जूझते रहे लोग, ट्रकों हटाने के लिए ली गयी क्रेन की मदद

VARANASI

ट्रैफिक जाम की समस्या से जूझ रहे शहर बनारस ने गुरुवार को एक और बड़ा जाम झेला। हर बार की तरह सिस्टम की लापरवाही इस बार भी जाम लगने का कारण बनी। रथयात्रा-महमूरगंज सड़क के दोनों लेन पर लोडेड ट्रकों के धंस जाने से उस रूट पर पूरा यातायात छह घंटे तक ठप रहा। ट्रकों को हटाने के लिए क्रेन का सहारा लेना पड़ा। घंटों मशक्कत के बाद किसी तरह दोनों ट्रकों को वहां से हटाया जा सका तब जाकर रोड चालू हो सकी। बता दें कि दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने लोडेड ट्रकों के शहर की सड़कों पर आवाजाही के चलते सड़कों के धंसने व पब्लिक को होने वाली परेशानी के बाबत पहले ही खबर पब्लिश कर सिस्टम को आगाह किया था।

सड़क के दोनों साइड जाम

सुबह करीब सात बजे महमूरगंज से रथयात्रा की तरफ जा रहे ट्रक का पहिया डॉ। अमिताभ हटवाल नामक क्लिनिक के सामने सड़क धंसने से फंस गया। सड़क की खराब हालत के चलते उसके चक्के पंक्चर हो गए जिसके चलते यह साइड पूरी तरह ब्लॉक हो गया। इस बीच उसके पीछे आ रहे गिट्टी लदे दूसरे ट्रक ने सड़क के दूसरे साइड से आगे बढ़ने की कोशिश की तभी उधर की सड़क भी धंस गयी और ट्रक का पहिया उसमें जा फंसा। अब सड़क के दोनों साइड पर यातायात बंद हो गया। दिन चढ़ने के साथ ही ट्रैफिक का दबाव बढ़ा और भयंकर जाम लग गया। सूचना पर अधिकारी के साथ ट्रैफिक पुलिस के जवान वहां पहुंचे और यातायात चालू कराने के लिए प्रयास शुरू कर दिया।

बुलाना पड़ा क्रेन

धंसी सड़क में फंसे ट्रकों को वहां से हटाने के लिए क्रेन की मदद लेनी पड़ी। 12 बजे के करीब क्रेन आया और एक तरफ फंसे ट्रक को हटाया। पर तब तक रथयात्रा, महमूरगंज, सिगरा, कमच्छा आदि इलाके में पूरी तरह जाम लग चुका था। सड़क पर जाम लगे देख दुपहिया वालों ने गलियों का रुख किया पर थोड़ी ही देर में वहां की स्थिति भी खराब हो गयी। हर गली में जाम लग गया। महमूरगंज इलाके में कई नर्सिग होम हैं जिसके चलते मरीजों को लेकर जा रही गाडि़यां भी घंटों फंसी रही। चार पहिया वाहन वाले तो घंटों जहां थे वही फंसे रहे।

बॉक्स

दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने किया था आगाह

शहर की सड़कों पर हैवी लोड ट्रकों के संचालन से सड़कें धंस जा रही हैं। सिगरा से रथयात्रा और महमूरगंज तक की सड़क पर कई जगह सड़क धंस गयी है। इसका सबसे बड़ा कारण शहर की सड़कों को जीटी रोड बना देना है। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने सिटी की रोड को बना दिया जीटी रोड नाम से खबर छापकर भी एडमिनिस्ट्रेशन और पुलिस का ध्यान आकर्षित किया था। पर इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.