ऐश्वर्या बोलीं, राबड़ी देवी ने मार-पीट कर घर से निकाला

Updated Date: Mon, 16 Dec 2019 12:37 PM (IST)

तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय ने सास राबड़ी देवी पर बाल खींचकर मारने-पीटने और घर से धक्का देकर निकालने का आरोप लगाया.

पटना: लालू परिवार में सास-बहू का झगड़ा रविवार को फिर सड़क पर आ गया। तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय ने सास राबड़ी देवी पर बाल खींचकर मारने-पीटने और घर से धक्का देकर निकालने का आरोप लगाया। राबड़ी आवास के बाहर करीब डेढ़ घंटे तक हुए हंगामा और फैमिली ड्रामा के बाद मामला पुलिस तक पहुंच गया है। ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय ने कहा है कि सबकुछ बर्दाश्त से बाहर हो गया है। अब आरपार होगा।

पोस्टर से भड़का मामला

मामले की शुरुआत सुबह में पटना विश्वविद्यालय में लगे एक पोस्टर से हुई। ऐश्वर्या का कहना है कि उसके पति तेज प्रताप ने सुबह में यह पोस्टर लगवाया था, जिसमें चंद्रिका राय के परिवार का चरित्र हनन किया गया था। पोस्टर की जानकारी मिलने पर ऐश्वर्या ने राबड़ी देवी से शिकायत की और पूछा कि आप लोगों ने मेरे माता-पिता को क्यों घसीटा? मेरे साथ जो किया जा रहा है, उसे तो मैं बर्दाश्त कर लूंगी, किंतु मेरे मायके वालों पर टिप्पणी मत करो। ऐश्वर्या के मुताबिक इसी बात पर राबड़ी ने उन्हें बाल खींचकर मारा। सुरक्षा गार्ड ने भी हाथ उठाया और घर से बाहर निकाल दिया। राबड़ी ने मेरे गहने और मोबाइल भी छीन लिए। मोबाइल फोन में ही मेरे तलाक से संबंधित सारे सुबूत हैं। मीडिया कैमरे के सामने रोती हुई ऐश्वर्या इतने गुस्से में थी कि वह अपनी सास को राबड़ी कहकर संबोधित कर रही थी।

आज फैसला आने की उम्मीद

ऐश्वर्या ने कहा कि 17 दिसंबर को कोर्ट में तलाक मामले पर फैसला आने की उम्मीद है। उसके पहले राबड़ी चाहती हैं कि मैं उनका घर छोड़ दूं। उन्होंने मेरा खाना बंद कर दिया।

तेजस्वी ने दिया राजनीतिक रंग

तेजस्वी यादव ने पूरे मामले को यह कहकर राजनीतिक रंग देने की कोशिश की है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इशारे पर ही उनके परिवार में झगड़ा हो रहा है। नीतीश नहीं चाहते हैं कि लालू परिवार सुकून से रहे। तेजस्वी ने कहा कि यह दो परिवारों के बीच का मामला है, जो अभी अदालत में विचाराधीन है। हमारे विरोधी लोग तूल न दें। अदालत पर ही छोड़ दिया जाए।

लालू परिवार का अपना कानून

पहली बार ऐश्वर्या ने अपने देवर और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को भी कठघरे में खड़ा किया और कहा कि किसी से भी कुछ नहीं होगा। लालू परिवार में कोई कानून नहीं है। उनका अपना कानून है। तेजस्वी से भी कुछ नहीं होगा। अगर करना होता तो अबतक करते नहीं क्या? चंद्रिका राय ने कहा कि तेजस्वी ने पूरे मामले में नपुंसकता का परिचय दिया है।

मैं यादव नहीं हूं क्या

ऐश्वर्या राय ने लालू परिवार के यादवों के रहनुमा होने पर भी सवाल उठाया और कहा कि ये लोग झूठमूठ का यादव-यादव करते हैं। मैं यादव नहीं हूं क्या? अपने दादा एवं पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा प्रसाद राय के बारे में कहा कि उन्होंने ही लालू यादव को आगे बढ़ाया। आज उनकी पोती के साथ ही लालू परिवार ऐसा व्यवहार कर रहा है। ये लोग किसी के नहीं हैं।

जेल भिजवाएंगे : चंद्रिका

पिछली बार की तरह परिवार में समझौते के सवाल पर चंद्रिका ने कहा कि राबड़ी अपने घर में ही बहू पर ही अत्याचार करती है। फिर किस मुंह से बाहर में महिला सम्मान की बात करती है। पूरे परिवार ने मिलकर मेरी बेटी की जिंदगी तबाह कर दी है। अब राजनीतिक एवं कानूनी रूप से निपटना है।

मई 2018 में हुई शादी

लालू के बड़े पुत्र तेजप्रताप के साथ ऐश्वर्या की शादी पिछले साल 12 मई को हुई थी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत कई बड़े शख्श ने शिरकत की थी। किंतु शादी के कुछ ही दिनों के बाद से दोनों के बीच अनबन शुरू हो गई।

दीवार पर पोस्टर

राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेज प्रताप और उनकी पत्‍‌नी ऐश्वर्या राय के बीच चल रहा विवाद पर्चा बनकर पटना कॉलेज की दीवार पर भी चिपक गया है। पटना कॉलेज के भाषा भवन पर 'सच्ची खबर' के नाम से चिपकाए गए पर्चा में तेजप्रताप का पक्ष लेते हुए उनके ससुर चंद्रिका राय, सास पूर्णिमा सिंह आदि पर अमर्यादित टिप्पणी की गई है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.