कोरोना सेफ्टी के बीच विधान परिषद चुनाव

Updated Date: Fri, 23 Oct 2020 05:08 PM (IST)

विधान परिषद की शिक्षक सीटों पर 72.50 प्रतिशत वोट

स्नातक सीटों के लिए पड़े 48.50 प्रतिशत मत

PATNA :

पटना विधान परिषद चुनाव के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच गुरुवार को सुबह आठ बजे से मतदान शुरू हो गया। स्नातक निर्वाचन क्षेत्र की चार सीटों पर कुल 59 प्रत्याशी, जबकि शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र की चार सीटों पर कुल 43 प्रत्याशी मैदान में हैं। विधान परिषद में मतपत्र के माध्यम से मतदान किया जा रहा है। पटना स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में कुल 181 बूथों पर मतदान हुआ।

मॉडल मतदान केन्द्र नोट्रेडम स्कूल में कोरोना सेफ्टी

पटना के नोट्रेडम स्कूल को मॉडल मतदान केन्द्र बनाया गया। एंट्री के साथ ही कोविड प्रोटेक्शन के लिए सैनिटाइज किया गया, वहीं टेम्परेचर भी सिर के बदले हाथ से लिया गया। सोशल डिस्टेंस के लिए गोले में लोग खड़े नजर आए ।

प्रमंडलीय आयुक्त और डीएम ने भी डाले वोट

बांकीपुर ग‌र्ल्स स्कूल के मतदान केंद्र पर प्रमंडलीय आयुक्त पटना संजय कुमार अग्रवाल तथा डीएम पटना कुमार रवि ने मतदान किया। प्रमंडलीय आयुक्त पटना संजय कुमार अग्रवाल ने मतदान केंद्र संख्या 38 पर तथा डीएम पटना कुमार रवि ने मतदान केंद्र संख्या 37 पर मतदान किया।

2014 में हुए मतदान के बराबर ही मत पड़े

बिहार विधान परिषद की आठ सीटों के लिए गुरुवार को हुए मतदान में शिक्षक मतदाताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। जबकि स्नातक के लिए साल 2014 में हुए मतदान के बराबर ही मत पड़े। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास ने बताया, सभी सीटों पर शांतिपूर्ण व मानक के अनुरूप मतदान संपन्न हुआ। कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली है।

स्नातक की पटना, तिरहुत, दरभंगा व कोसी सीट के लिए ओवरऑल 48.50 प्रतिशत मतदाताओं ने मत का प्रयोग किया। यह आंकड़ा 2014 के चुनाव के बराबर है। वहीं, शिक्षक निर्वाचन की पटना, सारण, तिरहुत व दरभंगा सीटों के लिए ओवरऑल 72.50 प्रतिशत मतदाताओं ने मत का प्रयोग किया। यह 2014 की तुलना में 8.5 प्रतिशत अधिक है। सबसे अधिक सारण में 85.00 प्रतिशत मतदान हुआ है। सबसे कम पटना सीट पर 55.30 प्रतिशत हुआ है। 2014 में भी सबसे कम मतदान पटना सीट पर ही हुआ था। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि सभी बूथों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई थी। सभी मतदाताओं की फोटोग्राफी हुई है।

एक भी कोविड पॉजिटिव नहीं :

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि सभी केंद्रों पर कोरोना गाइडलाइन का शत-प्रतिशत पालन किया गया है। सभी केंद्रों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मतदाताओं का इंफ्रारेड थर्मामीटर से तापमान मापा। उन्होंने कहा कि कोविड काल में किसी एक व्यक्ति या एजेंसी के भरोसे गाइडलाइन का पालन कराना संभव नहीं है। इसमें सभी की भागीदारी जरूरी है। प्रसन्नता की बात है कि विधान परिषद चुनाव में मतदाताओं का पूरा सहयोग मिला।

पहली बार सभी बूथ पर तैनात किए गए अ‌र्द्धसैनिक बल :

एडीजी जितेंद्र कुमार ने बताया कि विधान परिषद चुनाव में पहली बार सभी बूथों पर अ‌र्द्धसैनिक बलों की तैनाती की गई थी। किसी भी केंद्र से किसी तरह की अप्रिय घटना की सूचना मुख्यालय को नहीं मिली है। स्नातक के लिए चार लाख सात हजार 889 मतदाता पंजीकृत हैं। इसमें तीन लाख सात हजार 363 पुरुष, एक लाख 480 महिलाएं तथा 46 तृतीय जेंडर के मतदाता हैं। इनके लिए 633 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। शिक्षक निर्वाचन के लिए 40 हजार 413 मतदाता पंजीकृत हैं। इसमें 31 हजार 694 पुरुष, आठ हजार 715 महिला व चार तृतीय जेंडर शामिल हैं। मतदान के लिए 340 बूथ बनाए गए हैं।

:::::::::::::::::::::::::::::::::

स्नातक

क्षेत्र 2014 2020

पटना 39.61 44.53

तिरहुत 46.33 43.91

दरभंगा 55.49 47.28

कोसी 53.83 58.52

कुल 48.50 48.50

शिक्षक

क्षेत्र 2014 2020

पटना 50.14 55.30

सारण 69.77 85.00

तिरहुत 63.77 79.77

दरभंगा 71.73 70.03

कुल 64.00 72.50

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.