पटना में अब करें सीएनजी बसों से सैर

Updated Date: Sat, 26 Sep 2020 05:48 PM (IST)

- अब बस के जहरीले धुएं से मिलेगी मुक्ति

- पुराने डीजल चालित 20 आयसर बसों को सीएनजी में किया गया है कन्वर्ट

- पटना में नगर बस सेवा के 5 मार्गो पर सीएनजी बसों का होगा परिचालन

PATNA :

पटना शहर की सड़कों पर फ्राइडे से सीएनजी बसों का परिचालन शुरू हो गया। इससे राजधानी पटना में अब यात्रा करने वाले लोगों को बस के जहरीले धुएं से निजात मिलेगी। पटनाइट्स ने भी सीएनजी बसों के परिचालन को लेकर खुशी जताई। कहा कि पटना में अब धुआं और प्रदूषण रहित बसों में सफर का सपना पूरा हो रहा है।

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर बिहार राज्य पथ परिवहन निगम द्वारा पटना नगर बस सेवा में परिचालित होने वाले 20 डीजल चालित आयसर बसों का सीएनजी में कन्वर्ट किया गया है। इन बसों का परिचालन हर दिन पटना नगर बस सेवा के विभिन्न रुटों पर किया जाएगा।

इन पांच रुटों पर होगा परिचालन

सीएनजी बसों का परिचालन पटना नगर बस सेवा के विभिन्न 5 मार्गो पर किया जाएगा।

रुट नंबर 111 (गांधी मैदान-दानापुर बस स्टैंड) पर 5 सीएनजी बस,

रुट नंबर 111 ए (गांधी मैदान-दानापुर रेलवे स्टेशन) 5 बस,

रुट नंबर 222 (गांधी मैदान फुलवारी शरीफ एम्स) 6 बस,

रुट नंबर 555 (गांधी मैदान- पटना साहिब रेलवे स्टेशन) 2 बस,

रुट नंबर 333 ( गांधी मैदान-पटना विश्वविद्यालय) 2 सीएनजी बसों का परिचालन किया जाएगा।

प्रदूषण में आएगी कमी

परिवहन सचिव ने बताया कि सीएनजी बसों के परिचालन किए जाने से न केवल पटना शहर में वाहन जनित प्रदूषण नियंत्रण करने की दिशा में सहायता मिलेगी, बल्कि बसों के संचालन व्यय में भी कमी आएगी। इन बसों के सफल संचालन के बाद पटना नगर बस सेवा में पूर्व से परिचालित सभी आयसर डीजल बसों को सीएनजी में कन्वर्ट किया जाएगा।

दिया आकर्षक लूक

सभी सीएनजी बसों को आकर्षक लूक में तैयार कर ब्रांडिंग की गई है। ग्रीन बस सíवस थीम पर बस की पूरी डिजाइनिंग की गई है। विभिन्न डिजाइन के साथ बसों में इमोजी का भी इस्तेमाल किया गया है। सभी बसें 32 सीटर हैं।

पटना की सुधेरगी आवोहवा

सीएनजी बस से सफर कर रहे कई यात्रियों ने कहा कि पटना में पहली बार सीएनजी बसों को देख कर अच्छा लग रहा है। अब लोगों को धुएं के बीच से होकर नहीं गुजरना पड़ेगा। इनसे शहर की आवोहवा बेहतर होगी। उम्मीद है कि अब हमलोग प्रदूषण रहित वातावरण में बसों से आवागमन करे सकेंगे।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.