भारी बारिश से कई इलाकों में हुआ जलजमाव

Updated Date: Thu, 13 Aug 2020 05:38 PM (IST)

- गली मोहल्ले में लगा पानी

PATNA

मंगलवार रात और बुधवार की सुबह तक हुई मूसलाधार बारिश के बाद न्यू बाईपास से सटे उत्तर और दक्षिण दोनों तरफ के मोहल्ले जलमग्न हो गए हैं। कई मोहल्लों में घुटनेभर पानी जमा होने की वजह से पैदल चलना तो दूर, वाहनों का परिचालन भी ठप हो गया। इन सबके अलावा विभिन्न मोहल्लों में सड़क और नाला बनाने के जहां-तहां खोदे गए गड्ढे हादसों को आमंत्रण दे रहे हैं। वहीं कई नीचले इलाकों में बारिश और नाले का गंदा पानी ओवरफ्लो होकर सड़क से लेकर लोगों की घर तक में घुस गया। राजेंद्र नगर और कंकड़बाग के कई मोहल्लों में बारिश के पानी से लोग परेशान रहे।

नगर निगम की बढ़ी टेंशन

लगातार हो रही बारिश के कारण शहर कई इलाके पूरी तरह जलमग्न हो जा रहे हैं। शहर के कई मोहल्लों और मुख्य सड़कों पर नाला निर्माण का काम चलने से उन इलाकों में सड़क पर जलजमाव से गढ्डों का पता नहीं चलने से वाहन चालक इन इलाकों में जाने से कतराने लगे हैं। हालांकि सड़कों पर जलजमाव की समस्या दूर करने के लिए नगर निगम पूरी मुस्तैदी से काम रहा है, लेकिन अधूरे और जाम हो गए नालों के कारण निगमकर्मी भी परेशान हो रहे हैं। जलजमाव से निजात के लिए शहर के बड़े नालों की उड़ाही को दूसरा फेज शुरू हो गया है, लेकिन इसके बाद भी कुछ इलाकों जैसे पाटलिपुत्र कॉलोनी, राजवंशी नगर, कंकड़बाग में जलजमाव अब भी परेशानी का सबब बना हुआ है।

इन इलाकों में ज्यादा परेशानी

बारिश के बाद सबसे ज्यादा विग्रहपुर, बंगाली टोला, संजय नगर, ढेलवां, भूपतिपुर, ज्योतिष पथ, मदर टेरेसा रोड, एनटीपीसी कॉलोनी, खेमनीचक, आदर्श कॉलोनी, घाना कॉलोनी समेत अन्य मोहल्लों में पानी जम गया है। इसके साथ ही पाटलीपुत्र कॉलोनी आदि में भी पानी भर गया। हालांकि दोपहर में नगर निगम कíमयों ने पानी निकालने की प्रकिया शुरू की।

पाइप लाइन के लिए खोदे गढ्डे कर रहे परेशान

विग्रहपुर निवासी संजय यादव ने बताया कि सड़क पर घुटनेभर पानी जमा है। दोनों तरफ सीवरेज पाइपलाइन बिछाने के लिए गड्ढे खोद दिए गए हैं। इस कारण सड़क की चौड़ाई कम हो गई है। मजदूरों ने सड़क पर ईंट आदि फेंक दिए हैं, जो जलजमाव के कारण नजर नहीं आते और दोपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल हो रहे हैं।

गढ्डे में गिर कर हुए कई लोग घायल

पश्चिमी रामकृष्ण नगर के ज्योतिष पथ मोहल्ले का हाल भी बेहाल है। शीलम कुमारी, रीता दुबे, गोरख पासवान समेत कई लोगों ने बताया कि वे 200 मीटर तक बेतरतीब ढंग से खोदे गए गड्ढों में गिरकर घायल हो चुके हैं। 27 जुलाई को नगर निगम का कर्मचारी जेसीबी से आया और जहां-तहां गड्ढे खोद कर चला गया। इससे इस इलाके में परेशानी बढ़ गई है। लोगों ने कहा कि निगम हमेशा काम को शुरू कर बीच में ही छोड़ देता है। कई बार शिकायत के बाद जैसे-तैसे काम निपटाया जाता है जिससे समस्या कभी पूरी तरह खत्म नहीं होती।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.