सोनिया को कांग्रेस के पूर्व सिपाही तो अखिलेश को टक्कर देंगे निरहुआ भाजपा ने उतारे ये 5 प्रत्याशी

2019-04-04T09:19:21Z

भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को पांच और सीटों पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी

- भाजपा ने पांच और सीटों पर टिकटों का किया ऐलान

- रायबरेली से पूर्व कांग्रेसी दिनेश प्रताप सिंह को टिकट

- मैनपुरी में उतारा प्रत्याशी, आजमगढ़ से लड़ेंगे 'निरहुआ'

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को पांच और सीटों पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी. पार्टी ने पूर्व कांग्रेसी नेता और गांधी परिवार के बेहद करीबी माने जाने वाले एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह को रायबरेली से टिकट दिया है. अब दिनेश प्रताप सिंह रायबरेली में सोनिया गांधी को टक्कर देंगे. वहीं आजमगढ़ में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ भोजपुरी सुपरस्टार दिनेश कुमार यादव 'निरहुआ' को चुनाव मैदान में उतारा गया है. भाजपा ने मैनपुरी में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के खिलाफ भी प्रत्याशी उतारकर उन कयासों पर विराम लगा दिया जिसमें मुलायम को निर्विरोध जिताने की बात कही जा रही थी.

फिरोजाबाद में भी उतारा प्रत्याशी
भाजपा ने फिरोजाबाद में डॉ. चंद्रसेन जादौन को टिकट देकर चुनावी मुकाबला रोचक कर दिया है. डॉ. जादौन लंबे अर्से से भाजपा से जुड़े रहे है. पिछले चुनाव में भाजपा ने प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल को फिरोजाबाद से टिकट दिया था जिनको इस बार आगरा से प्रत्याशी बनाया गया है. उनको सपा के अक्षय यादव ने चुनाव में शिकस्त दी थी. ध्यान रहे कि फिरोजाबाद में सपा-बसपा गठबंधन की ओर से सपा के प्रमुख राष्ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव के पुत्र अक्षय यादव फिर से प्रत्याशी हैं जबकि सपा से अलग हुए शिवपाल सिंह यादव अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की ओर से फिरोजाबाद से चुनाव लड़ने जा रहे हैं. मैनपुरी से प्रेम सिंह शाक्य को टिकट दिया गया है जिन्होंने पिछला चुनाव मैनपुरी से लड़ा था पर दो लाख से ज्यादा वोटों से तेज प्रताप यादव से हार गये थे. यहां मुलायम सिंह यादव द्वारा सीट छोड़ने के बाद उपचुनाव हुआ था. मुलायम ने पिछले चुनाव में भाजपा के शत्रुघन सिंह को मात दी थी. इसके अलावा मछलीशहर में मौजूदा सांसद रामचरित्र निषाद की जगह 12 दिन पहले भाजपा में शामिल हुए उद्योगपति बीपी सरोज को प्रत्याशी घोषित किया गया है.

पार्टी को लिखा था लेटर
रायबरेली से चुनाव लड़ चुके अजय अग्रवाल ने इस बार अपनी टिकट पक्की करने के लिए पार्टी नेतृत्व को लेटर भी लिखा था जिसमें वैश्य समाज के टिकटों के कटने को लेकर नाराजगी जताई थी और रायबरेली में किसी दूसरे प्रत्याशी को उतारने पर आसपास की सीटों पर भी वैश्यों के आक्रोश का सामना करने की आशंका जताई थी. वहीं रमाकांत यादव भी टिकट के लिए कई बार दिल्ली जाकर पार्टी हाईकमान से गुहार लगा चुके थे पर इसका कोई फायदा नहीं हुआ.

इनका कटा टिकट

रायबरेली- अजय अग्रवाल

आजमगढ़- रमाकांत यादव

फिरोजाबाद- प्रो. एसपी सिंह बघेल (आगरा से प्रत्याशी)

मछलीशहर- रामचरित्र निषाद


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.