शपथ समारोह में मुलायम का गुणगान तोड़े सभी नियम

2014-01-22T09:00:00Z

AGRA 21 Jan डॉ बीआर अंबेडकर यूनिवर्सिटी में ट्यूजडे को लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों की धज्जियां उड़ती नजर आईं छात्रसंघ शपथ ग्रहण समारोह के दौरान एक राजनीतिक पार्टी के मुखिया का जमकर गुणगान किया गया सबसे मजे की बात तो ये रही कि विवि के कुलपति से लेकर सभी बड़े अधिकारी उनकी उपल?िधयों पर जमकर तालियां बजाते नजर आए वहीं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे राजनीतिक पार्टी के संसद सदस्य को लेकर भी तरहतरह की चर्चाएं करते नजर आए लिंगदोह कमेटी की सिफारिश है कि छात्रसंघ चुनाव में किसी भी राजनीतिक पार्टी का नाम और नेता का इस्तेमाल छात्रनेता विश्वविद्यालय में नहीं कर सकते हैं

विवि में सपा के लगे नारे
टयूजडे को डॉ. बीआर अंबेडकर यूनिवर्सिटी के जेपी सभागार में छात्रसंघ पदाधिकारियों को शपथ दिलाई गई. कार्यक्रम के चीफ गेस्ट संसद सदस्य प्रो. रामगोपाल यादव थे. जैसे ही वे मंच पर पहुंचे तो सारे पार्टी कार्यकर्ताओं ने नारे लगाने शुरु कर दिए. उसके बाद कार्यक्रम का संचालन कर रहे यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर ने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के जीवन के बारे में बताना शुरु किया. छात्र राजनीति में उनके योगदान से बात शुरु होकर राष्ट्रीय राजनीति में उनकी भूमिका पर बात खत्म हुई. स्टूडेंट्स को सियासत का पाठ पढ़ाना शुरु हो गया.

नहीं सुना वीसी का उद्बोधन
इस दौरान पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जमकर अफरा-तफरी मचाई. सत्ता की हनक में वे गुरुजनों के सम्मान को भी भूल बैठे. प्रो. रामगोपाल यादव के बाद जब यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. मोहम्मद मुजम्मिल स्टूडेंट्स को संबोधित करने के लिए डाइस पर पहुंचे. तो पार्टी के कार्यकर्ता और कुछ स्टूडेंट्स मंच पर पहुंच गए और राष्ट्रीय महासचिव को घेर लिया. किसी ने भी वीसी की बात को नहीं सुना. वे स्टूडेंट्स को बधाई देकर चले गए.
सांसद को भूले
सत्ता के दबाव में चुनाव कमेटी कई अतिथियों को बुलाना भूल गई. कार्यक्रम में सांसद रामशंकर कठेरिया को भी बुलाया नहीं गया. जबकि वे कैंपस में ही निवास करते हैं.
एबीवीपी ने किया बहिष्कार
शपथ ग्रहण समारोह पूरे राजनीतिक रंग में रंगा हुआ था. जिसका एबीवीपी ने बहिष्कार किया. इस दौरान एबीवीपी के पैनल से जीते प्रत्याशियों ने शपथ नहीं ली. संगठन ने इसका खुलकर विरोध किया.
ये रहे मौजूद
इस दौरान रजिस्ट्रार वीके पांडेय, एफओ आरपी सिंह, डीएसड?ल्यू राजेंद्र शर्मा, भूपेंद्र शर्मा, डॉ. ब्रजेश रावत, अवनींंद्र यादव, सपा छात्र सभा जिलाध्यक्ष आलोक यादव, निर्वेश शर्मा, देवेंंद्र परमार, गौरव यादव, शफीक कुरैशी, हेमंत यादव, गगन जादौन समेत कई छात्र मौजूद रहे.
सत्यनिष्ठा की ली शपथ
जेपी सभागार में ट्यूजडे को छात्रसंघ पदाधिकारियों ने वीसी प्रो. मोहम्मद मुजम्मिल ने अध्यक्ष रविशंकर यादव, उपाध्यक्ष रितु यादव, महामंत्री आलोक दुबे, संयुक्त सचिव हिमानी, ललितकला संकाय के राहुल यादव को शपथ दिलाई.
राजनीति की नर्सरी है छात्रसंघ
इस मौके पर चीफ गेस्ट रामगोपाल यादव ने विजयी प्रत्याशियों को नसीहत दी. उन्होंने कहा कि राजनीति की नर्सरी होता है छात्रसंघ. यहीं से छात्र राष्ट्रीय राजनीति की सीढ़ी चढ़ते हैं. उन्होंने प्रत्याशियों को कहा कि वे संयम से अधिकारियों से अपनी बात कहें.
लिंग दोह कमेटी की सिफारिशें
चुनाव प्रक्रिया, नामांकन एवं चुनाव परिणाम अधिकतम दस दिनों तक पूरे कर लिए जाएं
प्रत्याशी बनने की योग्यता यूजी के लिए 22 वर्ष, पीजी के लिए 25 वर्ष व शोध छात्र के लिए 28 साल
प्रत्याशी के लिए न्यूनतम 75 परसेंट अटेंडेंस अनिवार्य
आपराधिक रिकॉर्ड, मुकदमा, सजा या अनुशासनात्मक कार्रवाई वाला छात्र नहीं प्रत्याशी योग्य
प्रत्याशी विश्वविद्यालय या कॉलेज का नियमित छात्र हो, पत्राचार कोर्स का छात्र अयोग्य
चुनाव में अधिकतम एक प्रत्याशी पांच हजार रुपया खर्च.
व्यय या दूसरे नियमों के उ?ंघन पर चुनाव निरस्त.
मुद्रित पोस्टर, पैम्फ्लेट या प्रचार सामग्री के प्रयोग की अनुमति नहीं. केवल हस्तलिखित पोस्टरों से प्रचार.
प्रचार के लिए लाउडस्पीकर, वाहन एवं जानवरों का प्रयोग अनुबंधित.
किसी राजनीतिक संगठन को बढ़ावा नहीं दिया जाएगा.



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.