432 करोड़ रुपए से शुद्घ होगी राप्ती और रोहिन

2015-12-03T07:40:33Z

- नगर निगम राप्ती और रोहिन के किनारे लगाएगी तीन एसटीपी

GORAKHPUR:

राप्ती और रोहिन नदी के किनारे पर नमामि गंगे योजना के लिए नगर निगम ने तीन एसटीपी (सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट) बनाने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा है। इसके लिए नगर निगम ने 432.80 करोड़ रुपए की अनुमानित लागत आने की संभावना व्यक्त की है। यह जानकारी मेयर डॉ। सत्या पांडेय ने दी। उन्होंने बताया कि इसमें दो एसटीपी के निर्माण कार्य डीपीआर (डेली प्रोग्रेस रिपोर्ट) प्रदेश सरकार के माध्यम से केंद्र सरकार को भेजा गया है। एक की योजना बन कर तैयार है। इससे एक एसटीपी से 81 एमएलडी (मिलियन लीटर डेली) और दूसरे से से 54 एमएलडी सीवेज को शोधन करके शुद्ध पानी नदी में प्रवाहित किया जाएगा। इस योजना के तहत शहर में 1316 किमी लंबी सीवर पाइप लाइन का विस्तार भी किया जाएगा।

अन्य योजनाओं को मिलेगी स्वीकृति

मेयर डॉ। सत्या पांडेय ने बताया कि नगर निगम राप्ती नदी के घाटों को गोमती नदी की तर्ज पर विकसित करने के लिए शासन को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि इसे अमृत योजना के तहत रखा गया है, जिसमें शहर के सीवरेज व्यवस्था आंशिक होने के साथ-साथ पुरानी, क्षतिग्रस्त और कम क्षमता होने के कारण नये सिरे से सीवरेज नेटवर्क, सीवेज पम्पिंग स्टेशन आदि के निर्माण के लिये 1250 करोड़ की धनराशि की आवश्यकता होगी। यह योजना वर्ष 2021 के लिए तैयार की जा रही है, जबकि इसकी डिजाइन तीस वर्ष के लिए की गई है। इसके अलावा अगर किसी भी पब्लिक को किसी भी योजना को लेकर कुछ सुझाव देना है तो वह नगर निगम में मेयर कार्यालय में अपनी राय दे सकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.