सड़कों पर मौत बनकर दौड़ रहीं बसें

2019-07-12T06:00:39Z

27 बसें हर मिनट गुजरती हैं पीक ऑवर में दिल्ली रोड से

2 सेकेंड में तकरीबन एक बस गुजरती है इस रोड से

-250 अनुबंधित और नोएडा डिपो की बसों की आवाजाही रोजाना

- 30 दिन में भैंसाली बस अड्डे से परतापुर के बीच हो रहा एक बड़ा हादसा

- 8 लोगों की मौत रोडवेज बस के रौंदने से हुई है बीते वर्ष से अब तक

- 5 डिपो से होता है बसों का संचालन मेरठ रीजन में

- 1000 बसों का संचालन किया जाता है इन डिपो से रोजाना

-मेरठ के दोनों बस अड्डे शहर के बीचोंबीच

-आए दिन हो रहे हादसे, शिफ्ट नहीं हो रहे बस अड्डे

Meerut । मेरठ में रोडवेज बसें मौत बनकर शहर की सड़कों पर दौड़ रही हैं। यूपीएसआरटीसी की बसों के अलावा अनुबंधित बसों की रश ड्राइविंग से वाहन चालकों का सड़क से गुजरना मुश्किल है तो वहीं आए दिन हादसे हो रहे हैं। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट टीम ने गुरुवार को दिल्ली रोड पर रोडवेज बसों रश ड्राइविंग पर रियलिटी चेक किया। देखने में आया कि सड़क पर दौड़ रही इन अनियंत्रित बसों के चलते छोटे वाहन चालकों का सड़क से गुजरना मुश्किल है।

हर मिनट में 27 बसें

पीक ऑवर में शहर के व्यस्ततम दिल्ली रोड पर हर मिनट 27 बसें गुजरती हैं। यानि कि हर दो सेकेंड में एक बस। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि सड़क का क्या हाल होगा। बसों की कतार दिनभर सड़क पर लगी रहती है। एक जानकारी के मुताबिक भैंसाली डिपो की 250 अनुबंधित बसों और नोएडा डिपो की बसें शहर की सड़कों पर काबिज है। इन बसों की रश ड्राइविंग से आए दिन कोई न कोई दिल्ली रोड पर हताहत हो रहा है। वहीं सोहराबगेट बस अड्डे से दौड़ रही अनियंत्रित रोडवेज की बसें हापुड़ रोड, गढ़ रोड और बेगमपुल पर हादसों की वजह बन रही हैं।

हर माह दो हादसे

एक जानकारी के मुताबिक रोडवेज बस से दिल्ली रोड पर सर्वाधिक हादसे होते हैं। आंकड़ों पर गौर करें तो हर माह एक बड़ा हादसा भैंसाली बस अड्डे से परतापुर के बीच हो रहा है, जिससे वाहन सवार की जान पर बन रही है। दिल्ली रोड पर गत वर्ष से अब तक 8 लोगों की मौत रोडवेज बस के रौंदने से हुई है।

निगम बस अनुबंधित बस

भैंसाली डिपो - 250

सोहराबगेट डिपो- 140 70

गढ़ डिपो- 60

बडौत डिपो- 70 70

मेरठ डिपो- 184

जनरथ बसें - 6

बस से हुए हादसे

9 मई 2019

रोडवेज की टक्कर से कार सवार व्यापारी की मौत, पत्नी-बेटा गंभीर

मुंडाली थाना क्षेत्र में गढ़ रोड पर हुआ हादसा।

3 मई 2019

मिलिट्री हॉस्पिटल से दवाई लेकर लौट रही रिटायर फौजी की पत्नी को भैंसाली अड्डे पर रोडवेज बस ने कुचल दिया। यह नोएडा डिपो की बस थी।

28 जनवरी 2019

दिल्ली रोड स्थित होटल क्रोम के सामने बेकाबू रोडवेज बस ने बाइक को रौंद दिया। हादसे में बाइक सवार एक युवक की मौत हो गई।

20 जनवरी 2019

परतापुर थानाक्षेत्र के दिल्ली रोड स्थित संजय वन के सामने रोडवेज की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत की हो गई। चालक बस को छोड़कर भाग गया।

22 दिसंबर 2018

सदर बाजार थाना क्षेत्र स्थित भैंसाली बस अड्डे के बाहर सेल टैक्स के रिटायर असिस्टेंट कमिश्नर की रोडवेज से कुचलकर मौत हो गई।

9 जुलाई 2018

परतापुर के रिठानी में सड़क पार कर रहे युवक को बेकाबू रोडवेज बस ने कुचल दिया। हादसे के बाद परिजनों ने दिल्ली रोड पर जाम लगाकर बस में तोड़फोड़ की।

6 फरवरी 2018

परतापुर थाना क्षेत्र में एक युवक को पीछे से आ रही रोडवेज बस ने युवक को कुचल दिया। युवक अपनी बहन को बोर्ड परीक्षा में परीक्षा केंद्र पर छोड़कर आ रहा था।

---

बस ड्राइवर्स को सख्त निर्देश हैं कि वे शहरी और आबादी क्षेत्र में रश ड्राइविंग न करे। गत दिनों में दिल्ली रोड पर हुए हादसों को संज्ञान में लेकर बस ड्राइवर्स को धीमी गति से बस चलाने के लिए कहा गया है। तेज गति से वाहन चलाने वाले ड्राइवर के खिलाफ कार्रवाई होगी।

-नीरज सक्सेना, आरएम रोडवेज


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.