फिर निकले चेन स्नेचर हो जाएं होशियार

2019-02-13T06:00:59Z

- बीमार, दिव्यांग के साथ भी हो रही वारदातें

- जिला अस्पताल में पकड़ी गई संदिग्ध महिला

GORAKHPUR: शहर के भीतर एक्टिव चेन स्नेचर बीमार, लाचार और दिव्यांग महिलाओं को निशाना बनाने में जुटे हैं। सोमवार को खोराबार एरिया में पैरालाइज्ड महिला के गले से सोने की चेन लूटकर बदमाश भाग निकले थे। मंगलवार को जिला अस्पताल के दवा काउंटर की लाइन में लगी पेशेंट के गले से चेन चुराने में संदिग्ध महिला पकड़ी गई। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि चेन स्नेचरों की तलाश में पुलिस टीम लगी है। हाल के दिनों में ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें बदमाशों ने बीमार और लाचार लोगों को निशाना बनाने का प्रयास किया है।

महिला मरीज की चेन उड़ाने की कोशिश

महेवा फलमंडी निवासी कलावती कुशवाहा को थायराइड की प्रॉब्लम है। मंगलवार को वह उपचार कराने के लिए जिला अस्पताल में पहुंचीं। डॉक्टर से दवा की पर्ची लेकर मेडिसीन लेने के लिए काउंटर पर पहुंचीं। वह लाइन में लगकर अपनी बारी का इंतजार कर रही थीं। तभी उन्हें अहसास हुआ कि कोई उनकी चेन तोड़ रहा है। कलावती पीछे मुड़ीं तो चेन टूटकर नीचे गिर पड़ी थी। उसने अपने पीछे खड़ी महिला को पकड़ लिया। शोर-शराबा होने पर संदिग्ध महिला को एसआईसी के पास ले जाया गया। एसआईसी की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची तो महिला को हिरासत में ले लिया। पुलिस उससे पूछताछ करके जानकारी जुटा रही है।

बीमार-लाचार को टारगेट बना रहे बदमाश

जिले में बाजार जाने वाली महिलाओं की चेन लूटने वाले बदमाशों ने ट्रेंड बदल दिया है। बीमार और लाचार महिलाओं की तलाश करके बदमाश वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। खोराबार की घटना के पूर्व शाहपुर और कौड़ीराम में ऐसी वारदातें हो चुकी हैं। कौड़ीराम में व्हील चेयर पर सवार महिला के गले से बदमाश चेन लूट ले गए थे। जबकि शाहपुर में अस्पताल से लौट रही महिला के गले से चेन लूटकर बाइक सवार बदमाश फरार हो गए थे। पुलिस का कहना है कि सामान्य परिस्थितियों में महिलाएं विरोध जताने लगती है। लेकिन बीमार और दिव्यांग महिलाएं आसानी से विरोध नहीं जता पाती हैं। सोमवार को जगदीशपुर में हुई वारदात में पैरालिसिस की शिकार महिला मदद के लिए लोगों को पुकार नहीं पाई।

सर्दी कम हुई तो बढ़ सकती हैं वारदातें

पुलिस से जुड़े लोगों का कहना है कि सर्दी में गर्म लिबास ओढ़ने-पहनने की वजह से चेन स्नेचिंग कम होती है। लेकिन मौसम बदलने पर शॉल-स्वेटर उतरते ही गले में पहनी गई चेन साफ नजर आने लगती है। इसलिए राह चलती महिलाओं के बगल से गुजरते हुए बाइक सवार झपट्टा मारकर फरार हो जाते हैं। कई बार अकेले बाइक सवार बदमाश भी वारदात कर गुजरते हैं। ऐसे में पुलिस की चुनौती बढ़ जाती है।

वर्जन

चेन स्नेचर, लुटेरों के गैंग रजिस्टर्ड किए गए हैं। हुलिया के आधार पर बदमाशों की तलाश की जा रही है। बदमाशों के सक्रिय होने पर पुलिस टीम को अलर्ट कर दिया गया है। जल्द ही चेन लुटेरों को अरेस्ट कर लिया जाएगा।

- विनय कुमार सिंह, एसपी सिटी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.