छत्तीसगढ़ में CAF जवान ने अपने साथियों पर चलाई गोलियां, दो जवानों की मौके पर हुई मौत

2020-05-30T15:01:02Z

छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के एक जवान ने अपने साथियों पर ही हमला कर दिया। इस हमले में दो जवानों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक घायल हो गया।

नारायणपुर (एएनआई)। छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल (सीएएफ) के एक जवान ने कल रात नारायणपुर जिले में अपने सहयोगियों के यहां एके -47 राइफल से कथित तौर पर गोलियां चला दीं, जिनमें से दो की मौके पर ही मौत हो गई और एक घायल हो गया। इस बात की जानकारी पुलिस ने शनिवार को दी।
दो जवानों की मौके पर मौत
पुलिस के अनुसार, छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल की 9 वीं बटालियन बी कंपनी की सहायक प्लाटून कमांडर घनश्याम कुमेती ने कल रात अमदई भाटी कैंप, नारायणपुर में प्लाटून कमांडर लछराम प्रेमी पर अपनी एके -47 राइफल से गोलियां चला दीं। जबकि प्रेमी को तीन गोली ही लगी। वहीं प्लाटून कमांडर बिंदेश्वर सहानी और हेड कांस्टेबल रामेश्वर साहू की मौके पर ही मौत हो गई। घायल कर्मियों का इलाज चल रहा है।
अपने साथियों पर हमला करते रहे हैं जवान
इस घटना ने संघर्ष-ग्रस्त बस्तर क्षेत्र में माओवाद-विरोधी अभियानों में तैनात सशस्त्र बलों को चिंतित कर दिया है। वैसे यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कई जवान अपने साथियों पर ही गोली बरसा चुके हैं। साल 2012 में, दंतेवाड़ा में 111 बटालियन में आधी रात को गोलीबारी में सीआरपीएफ के चार जवानों को उनके सहयोगी ने मार डाला था। वहीं 2017 में सीआरपीएफ के जवानों ने बीजापुर के बासागुड़ा कैंप में तीन सीनियर और एक कांस्टेबल की हत्या कर दी। इसके अलावा जून 2019 में छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के जवान ने अपनी बटालियन के दो सिपाहियों की गोली मारकर हत्या कर दी। और आज एक सीएएफ जवान ने अपने दो साथियों को मौत के घाट उतार दिया।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.