सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में किया 'कन्या पूजन', दशहरे की दी शुभकामनाएं

Updated Date: Sun, 25 Oct 2020 03:00 PM (IST)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को गोरखनाथ मंदिर में कन्या पूजन किया। यही नहीं उन्होंने देशवासियों से कोरोना काल में सावधानी बरतने को कहा।

गोरखपुर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को गोरखनाथ मंदिर में 'कन्या पूजन' समारोह का आयोजन किया। मुख्यमंत्री, जो गोरखपुर में गोरक्ष पीठ के प्रमुख भी हैं, ने कहा कि भारतीय संस्कृति में , एक 'माँ' की भूमिका पूजनीय है और 'कन्या पूजन' शक्ति का प्रतीक है। उन्होंने 'दशहरा' के अवसर पर राज्य के लोगों को अपनी शुभकामनाएँ दीं और लोगों से कोरोनोवायरस-प्रेरित सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए कहा।

मंत्राक्षरमयीं लक्ष्मीं मातृणां रूपधारिणीम्
नवदुर्गात्मिकां साक्षात् कन्यामावाहयाम्यहम्।।जगत्पूज्ये जगद्वन्द्ये सर्वशक्तिस्वरुपिणि।
पूजां गृहाण कौमारि जगन्मातर्नमोस्तु ते।।
नवरात्रि के शुभ अवसर पर आज विधि-विधान से कन्या-पूजन का पुनीत कार्य संपन्न हुआ।
कन्या देवियों को नमन! pic.twitter.com/bwvP2FKOAH

— Yogi Adityanath (@myogiadityanath) October 25, 2020

कन्या पूजन का पोस्ट किया वीडियो
कन्या पूजन करते हुए सीएम योगी ने इसका वीडियो भी टि्वटर पर पोस्ट किया। इसके साथ ही उन्होंने लिखा, 'मंत्राक्षरमयीं लक्ष्मीं मातृणां रूपधारिणीम् नवदुर्गात्मिकां साक्षात् कन्यामावाहयाम्यहम्।।जगत्पूज्ये जगद्वन्द्ये सर्वशक्तिस्वरुपिणि। पूजां गृहाण कौमारि जगन्मातर्नमोस्तु ते।।
नवरात्रि के शुभ अवसर पर आज विधि-विधान से कन्या-पूजन का पुनीत कार्य संपन्न हुआ। कन्या देवियों को नमन!'

अत्याचार पर सदाचार, पाप पर पुण्य, दम्भ पर विनम्रता, क्रोध पर करुणा, आसुरी प्रवृत्ति पर सद्वृत्तियों की विजय के महापर्व विजयादशमी की सभी देशवासियों को अनन्त शुभकामनाएं।
विजयादशमी इस बात की प्रतीक है कि असत्य के रावण का सत्य के 'राम' द्वारा अंत निश्चित है।
सियावर रामचंद्र की जय!

— Yogi Adityanath (@myogiadityanath) October 25, 2020

दशहरा की दी बधाई
विजयादशमी की बधाई देते हुए सीएम योगी ने लिखा, 'अत्याचार पर सदाचार, पाप पर पुण्य, दम्भ पर विनम्रता, क्रोध पर करुणा, आसुरी प्रवृत्ति पर सद्वृत्तियों की विजय के महापर्व विजयादशमी की सभी देशवासियों को अनन्त शुभकामनाएं। विजयादशमी इस बात की प्रतीक है कि असत्य के रावण का सत्य के 'राम' द्वारा अंत निश्चित है। सियावर रामचंद्र की जय!

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.